कप्तान से लड़कर कुलदीप को भारतीय टीम में जगह दिलाने वाले अनिल कुंबले ने ही कहा इस देश के खिलाफ होगा कुलदीप का असली टेस्ट

Jr. Staff / 16 May 2018

जुलाई में भारतीय क्रिकेट टीम इंग्लैंड के दौरे पर होगी। चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव और यजुवेंद्र चहल को सीमित ओवरों की टीम में जगह दी गई है। पूर्व भारतीय कोच व लेग स्पिनर अनिल कुबंले का मानना है कि इंग्लैंड दौरा दोनों गेंदबाजों के लिए लिटमस टेस्ट के रूप में होगा। कुंबले ने कहा कि इंग्लैंड में धीमा विकेट और ठंडा मौसम स्पिनर्स के लिए सफलता की कुंजी साबित हो सकती है।

विकेट हो सकता है धीमा

फोटो क्रेडिट-गूगल

पूर्व भारतीय लेग स्पिनर और कोच अनिंल कुंबले का मानना है कि इंग्लैंड में पिच धीमी और मौसम ठंडा हो सकता है। यह बात कुंबले ने स्टार स्पोर्ट्स सेलेक्ट डगआउट के दौरान स्पोर्टस्टार से कही।

कुंबले ने कहा कि,

”विकेट पहले कुछ धीमा हो जाएगा। यह मौसम पर निर्भर करता है। पहली छमाही जब आप जुलाई की शुरूआत में जाते हैं तो वहां ठंडा हो सकता है।आपको ज्यादा उछाल नहीं मिलेगा। इसलिए आपकों बहुत भरा होना होगा। हालांकि अभ्यास के साथ परिस्थितियां अनूकुल हो सकती हैं।”

टी-20 में स्पिनरों की रही बड़ी भूमिका

फोटो क्रेडिट-गूगल

पूर्व लेग स्पिनर अनिल कुंबले ने बताया कि टी-20 क्रिकेट में स्पिनरों की भूमिका हमेशा ही महत्वपूर्ण रही है। लेग स्पिन की वजह से इसके इंटरेस्ट में नवीनीकरण आया है। कुंबले ने टी-20 क्रिकेट में स्पिनर्स भूमिका के बारे में बात करते हुए कहा कि,

”मुझे लगता है कि छोटे प्रारूप में स्पिनरों ने हमेशा महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। जब पहली बार टी-20 आया तो सभी ने यह सोचा कि इसमें स्पिनरों की कोई भूमिका नहीं होगी यह गाति के वजह से था। हमने देखा है कि स्पिनर,विशेष रूप से कलाई के स्पिनर बहुत प्रभावी रहे। इन्हें केवल रक्षात्मक गेंदबाज के रूप में नहीं बल्कि लेने वाले गेंदबाज के रूप में देखा जाता है”

 

निभाना होगा हमलावर भूमिका

फोटो क्रेडिट-गूगल

47 वर्षीय पूर्व भारतीय लेग स्पिनर अनिल कुंबले का मानना है कि इंग्लैंड दौरे में चहल और कुलदीप यादव को आक्रमक रूख अपनाना होगा। यह रोल टीम को जीत दिलाने में मददगार साबित होगी।

कुंबले ने कहा कि,

”यदि आप हमलावर भूमिका निभा रहे हैं,तो यह महत्वपूर्ण है कि आप उस फैशन में इस्तेमाल हों। कुलदीप और चहल दोनों आक्रामक गेंदबाज हैं। भले ही वो कितने रन देते हों लेकिन वो विकेट लेने की तलाश में रहते हैं। उन्होंने अब तक अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन यह देखना महत्वपूर्ण होगा कि वो इंग्लैंड की परिस्थितियों में कैसे प्रदर्शन करते हैं।”