इंग्लैड ने भारत को आठ विकेट से हराकर वनडे श्रृंखला जीती

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

इंग्लैड ने भारत को आठ विकेट से हराकर वनडे श्रृंखला जीती 

इंग्लैड ने भारत को आठ विकेट से हराकर वनडे श्रृंखला जीती

लीड्स, 17 जुलाई: जो रूट की नाबाद शतकीय पारी और कप्तान इयोन मोर्गन (नाबाद 88) के साथ 186 रन की अटूट साझेदारी के बूते इंग्लैंड ने आज यहां तीसरे और अंतिम एकदिवसीय मैच में भारत को आठ विकेट से हराकर मैच और श्रृंखला (2-1) अपने नाम कर ली।

इंग्लैड ने भारत को आठ विकेट से हराकर वनडे श्रृंखला जीती 1

मैन ऑफ द मैच आदिल रशीद (49 रन देकर तीन विकेट) और डेविड विली (40 रन देकर तीन विकेट) की शानदार गेंदबाजी के कारण भारतीय टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवर में आठ विकेट पर 256 रन ही बना सकी। इस लक्ष्य को इंग्लैंड ने 44.3 ओवर में दो विकेट के नुकसान पर हासिल कर लिया।

इस जीत के साथ ही इंग्लैंड ने टी-20 श्रृंखला में भारत से मिली हार का बदला लिया। इंग्लैंड ने भारत के खिलाफ 2011 के बाद पहली बार सीमित ओवरों की श्रृंखला अपने नाम की है।

भारत की ओर से कप्तान विराट कोहली ने 72 गेंद में 71 रन की पारी खेली। इस दौरान उन्होंने आठ चौके लगाये। सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने 44 और महेन्द्र सिंह धोनी ने 42 रन का योगदान दिया।

पिछले मैच में शतक लगाने वाले रूट एक बार फिर रंग में दिखे। उन्होंने 120 गेंद की पारी में 10 चौके की मदद से नाबाद 100 रन बनाये। यह उनका 13वां शतक है जिससे वह वनडे में इंग्लैंड के लिए सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले बल्लेबाज बन गये। उन्होंने पूर्व सलामी बल्लेबाज मार्कस ट्रेस्कोथिक (12 शतक) को पीछे छोड़ दिया।

लगातार दो शतक लगाने वाले रूट को मैन आफ द सीरिज का खिताब मिला। उन्होंने मोर्गन के साथ तीसरे विकेट के लिए 186 रन की अटूट साझेदारी भी की। मोर्गन ने 108 गेंद की पारी में नौ चौके और एक छक्का लगाया।

जानी बेयरस्टा और जेम्स विंस ने इंग्लैंड को तेज शुरूआत दिलायी। खास कर बेयरस्टा काफी आक्रामक रहे जिन्होंने भुवनेश्वर कुमार के दूसरे ओवर (पारी के तीसरे) में चार चौके जड़ने के बाद अगले ओवर में हार्दिक पंड्या की गेंद को तीन बार सीमा रेखा के पार भेजा।

कोहली ने पांचवें ओवर में शारदुल ठाकुर को गेंद थमायी जिन्होंने बेयरस्टा की पारी का अंत किया। बेयरस्टा ने 13 गेंद की पारी में सात चौके की मदद से 30 रन बनाये। विंस दसवें ओवर की पहली गेंद पर धोनी की चपलता के कारण रन आउट हुए। पंड्या के थ्रो पर धोनी ने एक झटके में गिल्लियां बिखेर कर उनकी 27 रन की पारी का अंत किया।

इंग्लैंड ने 10 ओवर में ही दो विकेट के नुकसान पर 78 रन बना लिये। इसके बाद रूट और मोर्गन ने भारतीय गेंदबाजों को विकेट के लिये तरसा दिया। उनकी बल्लेबाजी के आगे भारतीय गेंदबाज असरहीन नजर आये। रूट ने 25 वें ओवर की पहली गेंद पर चौका जड़कर अपना अर्धशतक पूरा किया। मोर्गन ने 28वें ओवर की पांचवीं गेंद पर अपना अर्धशतक पूरा किया। उन्होंने 58 गेंद में अपना 38वां एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय अर्धशतक पूरा किया।

मोर्गन ने 35वें ओवर की पहली गेंद पर चौका लगाकर टीम के स्कोर को 200 के पार पहुंचाया। उन्होंने 38वें ओवर में कुलदीप यादव की गेंद पर इंग्लैंड की पारी का पहला छक्का लगाया। पारी के 43वें ओवर में पंड्या की गेंद पर भुवनेश्वर ने मोर्गन का आसान सा कैच टपका दिया।

रूट ने 45वें ओवर की तीसरी गेंद पर चौका लगाकर अपना शतक पूरा करने के साथ टीम की जीत सुनिश्चित की।

इससे पहले टास हार कर बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम के विकेट लगातार अंतराल पर गिरते रहे। टीम की शुरूआत धीमी रही। मार्क वुड (30 रन देकर एक विकेट) और विली की स्विंग होती गेदों ने सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और शिखर धवन को परेशान किया। रोहित खासकर ज्यादा असहज दिखे और मार्क वुड का पहला ओवर मेडन रहा। शिखर धवन ने हालांकि तीसरे ओवर में दो चौके लगाकर अपने इरादे जाहिर किये। छठे ओवर में डेविड विली की गेंद पर बड़ा शाट खेलने के चक्कर में रोहित बाउंड्री पर वुड को कैच दे बैठे। उन्होंने 18 गेंद में दो रन बनाये।

धवन के साथ कप्तान कोहली ने संभलकर खेलते हुए पारी को आगे बढाया। धवन ने 13वें ओवर में लियाम प्लंकेट के ओवर में लगातार तीन चौके लगाकर दबाव कम किया। इस बीच मोइन अली की गेंद पर (पारी का 16वां ओवर) बटलर ने कोहली का मुश्किल कैच टपका दिया। कोहली ने अगले ही ओवर में इसका फायदा उठाते हुए स्टोक्स के ओवर में दो चौके लगाये। दोनों के बीच 71 रन की साझेदारी का अंत स्टोक्स ने धवन को रन आउट कर किया। धवन ने 49 गेंद में 44 रन की पारी में सात चौके लगाये।

लोकेश राहुल की जगह टीम में शामिल हुए दिनेश कार्तिक चौथे नंबर पर आये और अपनी पहली ही गेंद पर उन्होंने चौका लगाया। उन्होंने अगले ओवर में रशीद की गेंद को भी सीमा रेखा के पार भेजा। इस बीच कोहली ने प्लंकेट की गेंद पर चौका मार अपने करियर का 48वां अर्धशतक पूरा किया।

कार्तिक हालांकि अपनी पारी को लंबा नहीं खींच पाये और जरूरत से ज्यादा आत्मविश्वास दिखाना उन्हें भारी पड़ा। वह पारी के 25वें ओवर में रशीद की गेंद पर बोल्ड हो गये। कार्तिक ने 22 गेंद में तीन चौके की मदद से 21 रन बनाये। रशीद ने इसके बाद पारी के 31वें ओवर में कोहली और सुरैश रैना को आउट कर भारत को दोहरा झटका दिया। कोहली उनकी लेग स्पिन को समझ नहीं पाये। रैना लेग स्लिप में खड़े रूट को कैच थमा बैठे जिससे टीम का स्कोर पांच विकेट पर 158 रन हो गया।

पिछले मैच में दर्शकों की हूटिंग का शिकार हुए धोनी का यहां दर्शकों ने हौसला अफजाई कर स्वागत किया। उन्होंने हार्दिक पंड्या (21) के साथ 36 रन की साझेदारी की। पंड्या आक्रामक होते इससे पहले ही वुड ने उन्हें पवेलियन की राह दिखा दी। 42वें ओवर में धोनी ने टीम के स्कोर को 200 के पार पहुंचाया। उन्होंने भुवनेश्वर (21) के साथ सातवें विकेट के लिए 27 रन की साझेदारी की। वह 46वें ओवर में विली की गेंद पर विकेट के पीछे लपके गये। इसके बाद शारदुल ठाकुर ने दो छक्कों की मदद से 13 गेंद पर नाबाद 22 रन बना कर टीम के स्कोर को 250 के पार पहुंचाया।

इससे पहले भारत ने तीन बदलाव करते हुए सिद्धार्थ कौल, उमेश यादव और लोकेश राहुल की जगह भुवनेश्वर कुमार, शारदुल और दिनेश कार्तिक को टीम में जगह दी।

इंग्लैंड ने एक बदलाव करते हुए चोटिल जेसन राय की जगह जेम्स विंस को टीम में शामिल किया।

Related posts

Leave a Reply