डकवर्थ लुईस नियम के अनुसार इंग्लैंड की श्रीलंका पर 18 रनों की जीत

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

डकवर्थ लुईस नियम के अनुसार, इंग्लैंड की श्रीलंका पर 18 रनों की जीत 

डकवर्थ लुईस नियम के अनुसार, इंग्लैंड की श्रीलंका पर 18 रनों की जीत

दासुन शनाका (66) और सलामी बल्लेबाज निरोशन डिकवेला (52) के अर्द्धशतकों की मदद से श्रीलंका ने इंग्लैंड के खिलाफ शनिवार को चौथे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में 7 विकेट पर 273 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया था. बारिश की वजह से एक बार फिर मैच देरी से शुरू हुआ.

इंग्लैंड की तरफ से मोईन अली सबसे सफल गेंदबाज रहे

बता दें,शनाका ने अपनी पारी में 5 छक्के और 4 चौके लगाए और एकदिवसीय मैचों में अपना सर्वोच्च स्कोर बनाया.इंग्लैंड की तरफ से मोईन अली सबसे सफल गेंदबाज रहे. उन्होंने 55 रन देकर 2 विकेट लिए. इस स्कोर का पीछा करने उतरी इंग्लैंड के लिए ये लक्ष्य उतना मुश्किल साबित नहीं हुआ. टीम ने ये लक्ष्य बड़ी आसानी से प्राप्त कर लिया. हालांकि इसमें बारिश ने भी उनका साथ दिया.
डकवर्थ लुईस नियम के अनुसार, इंग्लैंड की श्रीलंका पर 18 रनों की जीत 1

इंग्लैंड ये मैच 18 रनों से डकवर्थ लुईस नियम के अनुसार जीत गया 

इंग्लैंड ये मैच 18 रनों से डकवर्थ लुईस नियम के अनुसार जीत गया. अभी 27 ओवर का ही खेल हुआ था कि अचानक बारिश आने लगी और  डकवर्थ लुईस नियम के अनुसार इंगलैंड ये मैच जीत गई. इंग्लैंड के तरफ से  जेसन रॉय ने 45 रन बनाए. जॉनी बैरेस्टो की जगह टीम में आए एलेक्स हेल्स ने कुछ अच्छा प्रदर्शन नहीं किया. उन्होंने सिर्फ 12 रन बनाए. जो रूट और मोर्गन अभी खेल रहे थे तभी बारिश आ गई.
इंग्लैंड-श्रीलंका
इंग्लैंड-श्रीलंका
क्रिकेट के खेल में बारिश के दखल के चलते खेल का वक्त बर्बाद होना आम बात है. ऐसा कई बार होता रहा जब बारिश ने खेल का मजा किरकिरा कर दिया हो. श्रीलंका के दौरे पर गई इंग्लैंड की टीम के साथ बी ऐसा ही हो रहा है, लेकिन बारिश के इस खेल से इंग्लिश क्रिकेट फैंस इतने नाराज हो गए है कि उन्हें सांत्वना देने के लिए इंग्लैंड के क्रिकेट बोर्ड यानी ईसीबी को बयान जारी करना पड़ा है.
पहले दो प्रैक्टिस मैच पूरी तरह धुल जाने के बाद वनडे सीरीज का पहला मैच भी बारिश की भेट चढ़ गया. इसके बाद दूसरा वनडे हुआ जरूर लेकिन इसमें भी बारिश की भूमिका रही और इग्लैंड को डकवर्थ लुइस सिस्टम के जरिए जीत हासिल हुई.

Related posts

Leave a Reply