पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने दिया स्पॉट फिक्सिंग मामले पर बड़ा बयान, मुश्किल में इन खिलाड़ियों का करियर | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने दिया स्पॉट फिक्सिंग मामले पर बड़ा बयान, मुश्किल में इन खिलाड़ियों का करियर 

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने दिया स्पॉट फिक्सिंग मामले पर बड़ा बयान, मुश्किल में इन खिलाड़ियों का करियर

वर्ष 2010 में इंग्लैंड स्पॉट फिक्सिंग कांड के लगभग 6 वर्षो पर पाकिस्तान क्रिकेटर्स एक बार फिर फिक्सिंग के जाल में फसते हुए दिखाई दे रहे हैं. पाकिस्तान सुपर लीग के दुसरे सीजन के दौरान स्पॉट फिक्सिंग के कारण कई पाकिस्तानी अन्तराष्ट्रीय खिलाड़ी जांच के घेरे में हैं.

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने दिया स्पॉट फिक्सिंग मामले पर बड़ा बयान, मुश्किल में इन खिलाड़ियों का करियर 1

शरजील और लतीफ़ के खिलाफ़ है सबूत

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी )के कानूनी सलाहकार तफज्जुल रिज्वी का कहना है, पाकिस्तान सुपर लीग के दौरान स्‍पॉट फिक्सिंग और अन्य मामलों में पाकिस्तानी बल्लेबाजों शारजील खान और खालिद लतीफ के खिलाफ पर्याप्त सबूत मौजूद हैं.  4 जून को पाकिस्तान के खिलाफ मैदान पर उतरते ही ऐसा करने वाले दुनिया के पहले खिलाड़ी बन जायेंगे युवराज सिंह

रिज्वी का कहना है, कि फोन पर हुई बातचीत,  फ़ोन मैसेज के रूप में उपलब्ध सबूतों की फोरेंसिक जांच हो चुकी है और ये दोनों खिलाड़ियों के खिलाफ कार्रवाई और स्‍पॉट फिक्सिंग आरोपों की सुनवाई के लिए बनाई गई समिति के सामने सब कुछ साबित करने के लिए काफ़ी हैं.

दोनों खिलाड़ी कर रहे है गुमराह

रिज्वी का कहना है, कि दोनों खिलाड़ी जांच के लिए बनाई गयी समिति को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं. शरजील और लतीफ़ के वकील का कहना है, कि पीसीबी के पास दोनों खिलाड़ियों के खिलाफ़ कोई सबूत नहीं है, लेकिन पीसीबी के क़ानूनी सलाहकार रिज्वी का कहना है, कि दोनों खिलाड़ियों को सजा दिलाने के लिए पर्याप्त सबूत मौजूद हैं.

दोनों खिलाड़ियों के आलावा पीसीबी की भ्रष्टाचार विरोधी यूनिट ने पाकिस्तान के नेशनल स्तर के खिलाड़ी मोहम्मद नवाज को भी 11 मई को पूछताछ के लिए बुलाया है.  पाकिस्तान के स्टार ऑल राउंडर शाहिद अफरीदी ने चैंपियंस ट्रॉफी से पहले दी टीम इंडिया को कड़ी चेतावनी

पीसीबी मोहम्मद इरफ़ान पर लगा चूका है एक वर्ष प्रतिबंध

पीएसएल स्‍पॉट फिक्सिंग मामले में पीसीबी ने पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद इरफान पर एक वर्ष का प्रतिबंध लगा दिया गया था. इसके आलावा इरफान पर दस लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया गया है.

इरफान को बुकी ने फ़िक्सिंग का ऑफर किया था, लेकिन इसकी जानकारी उन्होंने पीसीबी को नहीं दी थी. इरफान के एक वर्ष का प्रतिबंध में आधा निलंबित होगा. इसका मतलब यह है, कि वो इस प्रतिबंध को दो हिस्सों में पूरा करेंगे. पहला प्रतिबंध छह महीने तक चलेगा. उसके बाद रिव्यू किया जाएगा. अगर इरफ़ान सारे नियमों का पालन करते हैं, तो उसके बाद छूट दी जा सकती है. प्रतिबंध के कारण इरफान अगले 6 महीने तक किसी भी तरह की क्रिकेट का हिस्सा नहीं हो पाएंगे.

Related posts