भारत

दक्षिण अफ्रीका की टीम पिछले कुछ समय से लगातार ख़राब प्रदर्शन कर रही है. हाल में उन्हें भारत की सरजमीं पर विराट कोहली की टीम ने 3 लगातार टेस्ट मैच में बुरी तरह से हराया. जिसके बाद अब दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डू प्लेसिस ने टेस्ट क्रिकेट में टॉस के महत्वपूर्ण पर ही बड़ा सवाल उठा दिया है.

भारत से हार के बाद फाफ डू प्लेसिस ने उठाया टॉस पर सवाल

फाफ डू प्लेसिस

भारतीय सरजमीं पर तीनों टेस्ट मैच में बुरी तरह से दक्षिण अफ्रीका की टीम को हार मिली. दो मैच में उनकी टीम पारी के अंतर से हार गयी. जिसके कारण भारत से वापसी के बाद हुए प्रेस कांफ्रेस दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डू प्लेसिस ने टेस्ट क्रिकेट में टॉस के महत्व पर बड़ा सवाल उठाते हुए कहा है कि

हर टेस्ट मैच में वो टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला ले लेते थे और उसके बाद 500 रन बनाकर शाम को पारी घोषित कर देते थे. शाम को जल्दी से 3 विकेट लेकर वो अगली सुबह दूसरी टीम पर दवाब बना देते हैं.

हर मैच में यहीं प्रक्रिया वो अपना रहे थे. यदि टेस्ट क्रिकेट में विदेशी टीम को टॉस का महत्व दिया जाये तो फिर विदेशी टीमो के पास अच्छा मौका होगा. दक्षिण अफ्रीका में हम हरी पिच पर खेलने को तैयार हैं.

भारत से हार के बाद टॉस के महत्व पर सवाल उठा रहे हैं दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डू प्लेसिस 1

बुरी तरह से भारत में हारें थे फाफ डू प्लेसिस

भारत से हार के बाद टॉस के महत्व पर सवाल उठा रहे हैं दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डू प्लेसिस 2

विराट कोहली की टीम ने दक्षिण अफ्रीका को टेस्ट सीरीज के दौरान पूरी तरह दबाव में रखा था. पहले टेस्ट मैच के पहली पारी को छोड़कर पूरी सीरीज के दौरा किसी समय ऐसा नहीं लगा की दक्षिण अफ्रीका की टीम भारत को टक्कर दे सकती है.

विशाखापत्तनम टेस्ट मैच में भारत ने अफ्रीका को 203 रनों से हराया था. जबकि पुणे के मैच में दक्षिण अफ्रीका की टीम को पारी और 137 रनों की हार झेलनी पड़ी थी. तीसरे टेस्ट मैच रांची में खेला गया था. जहाँ पर उन्होंने पारी और 202 रनों से दक्षिण अफ्रीका को हराया था.

अब इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज खेलेगी दक्षिण अफ्रीका

भारत से हार के बाद टॉस के महत्व पर सवाल उठा रहे हैं दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डू प्लेसिस 3

जिस तरह से भारत के खिलाफ उन्हें हार मिली है. उसके बाद दक्षिण अफ्रीका की टीम अपने घरेलू मैदान पर इंग्लैंड की टीम का सामना करेगी. जहाँ पर उन्हें 4 टेस्ट मैच, 3 टी20 और 3 एकदिवसीय मैच खेलना है. जिसके कारण दक्षिण अफ्रीका की टीम अब वापसी के बारें में सोच रही है.