पाकिस्तान सुपर लीग में पहली बार खेलते नजर आयेंगे ये दिग्गज खिलाड़ी | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

पाकिस्तान सुपर लीग में पहली बार खेलते नजर आयेंगे ये दिग्गज खिलाड़ी 

पाकिस्तान सुपर लीग में पहली बार खेलते नजर आयेंगे ये दिग्गज खिलाड़ी

आईपीएल की तर्ज में पाकिस्तान में होने वाला पाकिस्तान सुपर लीग ने पाकिस्तान में क्रिकेट वापस लाने में सबसे पहला योगदान दिया. क्योंकि पिछले पाकिस्तान सुपर लीग का फाइनल मुकाबला पाकिस्तान में ही खेला गया था, जिसके बाद वर्ल्ड टीम ने दौरा किया कि पाकिस्तान में भी खेला जा सकता है.

पाकिस्तान में पीएसएल का फाइनल मुकाबला दुनिया को यह दिखाने के लिए पर्याप्त था कि अब पाकिस्तान में भी क्रिकेट की ओर बढा जा सकता है.

पाकिस्तान सुपर लीग क्ले अगले संस्करण को भी पाकिस्तान में कराए जाने की योजना है. इस संसकरण के लिए कई बड़े खिलाड़ियों ने खेलने के लिए हाँ कर दी है. पाकिस्तान ने जानकारी देते हुए खुशी जताई.

पाकिस्तान सुपर लीग में कई नाम जुड़ेंगे-

लीग का तीसरा सीज़न, फरवरी 2018 के आसपास खेला जाना है. हालांकि, पूरे कार्यक्रम का अभी तक घोषित नहीं किया गया है. इस साल मुस्लिम सुल्तान का नाम मुल्तान से पीएसएल की एक नई टीम होगी.

पिछले संस्करण में केविन पीटरसन, डैरेन सैमी, और कई अन्य ने स्टार लीग में हिस्सा लिया. इस वर्ष इस लीग का दायरा और बड़ा होने जा रहा है, क्योंकि दुनिया के कई दिग्गज खिलाड़ियों ने इस लीग में खेलने की हामी भर दी है.

ये दिग्गज हुए शामिल-

पाकिस्तान सुपर लीग में कई ऐसे खिलाड़ी शामिल हुए हैं, जिनके अंतर्राष्ट्रीय टी-20 में सफलता हासिल है और इससे दर्शकों की रूचि और बढ़ेगी. पीएसएल समिति ने हाल ही में कुछ नए विदेशी खिलाड़ियों पर हस्ताक्षर करने की घोषणा की. इन खिलाड़ियों में एंजेलो मैथ्यूज, मिशेल जॉनसन, क्रिस लिन, जेपी ड्यूमिनी, एविन लुईस, इमरान ताहिर और राशीद खान भी इस टूर्नामेंट के अगले सीजन में शामिल हुए हैं.

पिछले वर्ष सामिल होने वाले खिलाड़ियों ने भी दी सहमती-

 

पिछले साल पीएसएल में खेलने वाले विदेशी खिलाड़ियों में से कई खिलाड़ियों ने अपनी फ्रैंचाइजी को उपलब्धता की पुष्टि की है. सात खिलाड़ी लीग के लिए नए हैं पाकिस्तान सुपर लीग समिती ने ट्विटर पर इन खिलाड़ियों के नाम डाले और बताया कि ये नाम इनकी सहमती के बाद डाले गये हैं.

आप को बता दें, पाकिस्तान में होने वाली यह घरेलू टी-20 दर्शकों में बीच खासा लोकप्रिय हुई थी. हालाँकि, कुछ विवाद भी हुए जिनमे पाकिस्तान के कई कुछ सीनीयर खिलाड़ी सट्टेबाजी में पकड़े गये, इसके बावजूद लीग सफल साबित हुई थी. सबसे बड़ी कामयाबी इस सीरीज की यह है, कि इसने पाकिस्तान में क्रिकेट लौटाने में बड़ी मदद की है.

Related posts

Leave a Reply