कभी इस खिलाड़ी के एक रन की कीमत लाखों में थी पर अब नहीं मिल रहा भारतीय टीम में मौका

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

कभी लाखो में थी इस खिलाड़ी के एक रन की कीमत, अब नहीं मिल रहा है टीम इंडिया में जगह 

कभी लाखो में थी इस खिलाड़ी के एक रन की कीमत, अब नहीं मिल रहा है टीम इंडिया में जगह

अपनी खतरनाक तेज गेंदबाजी और बल्लेबाजी से भारतीय टीम में आकर धमाल मचाने वाले इरफ़ान पठान का आज जन्मदिन है. वह पिछले काफी वक्त से भारतीय क्रिकेट टीम से बाहर चल रहे हैं. 27 अक्टूबर 1984 को गुजरात के बड़ौदा में जन्मे इरफ़ान को बचपन में ही क्रिकेट खेलने का जुनून था. उनके पिता अहमदाबाद की एक मस्जिद में मुअज्जिन थे.

इरफ़ान के घर की आर्थिक स्थिति बहुत ज्यादा अच्छी नहीं थी. उनके पिता चाहते थे कि वह एक इस्लामिक स्कॉलर बने. पर इरफ़ान का क्रिकेट प्रेम उन्हें अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में ले आया.

2003 में किया था डेब्यू 

इरफ़ान ने एक गेंदबाज ऑल राउंडर के तौर पर चयनकर्ताओं को प्रभावित कर 19 साल की उम्र में भारतीय टीम में जगह बना ली थी. इरफ़ान ने 2003 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट में डेब्यू किया.

ये भी पढ़ें – टी-20 के स्पेशलिस्ट है ये भारतीय खिलाड़ी फिर भी नहीं दी टीम में जगह

कभी लाखो में थी इस खिलाड़ी के एक रन की कीमत, अब नहीं मिल रहा है टीम इंडिया में जगह 1

एक बार टीम में जगह बनाने के बाद इरफ़ान ने मुड़कर नहीं देखा और शानदार प्रदर्शन किया. टेस्ट डेब्यू के एक साल बाद उन्होंने वनडे में भी डेब्यू कर लिया था. उन्होंने अपना पहला वनडे भी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ही खेला.

इरफ़ान ने पांच साल तक टेस्ट क्रिकेट खेला. उन्होंने कुल 29 मैच खेले, जिसमें 100 विकेट चटकाए. इसमें उनकी एक हैट्रिक भी शामिल है. यह हैट्रिक उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ कराची में ली थी. वहीँ बल्लेबाजी में इरफ़ान ने 31.57 की औसत से 1105 रन बनाए.

वनडे में इरफ़ान ने 120 मैच खेले जिसमें 1544 रन बनाए और 173 विकेट दर्ज किए. शानदार गेंदबाजी और बल्लेबाजी की वजह से एक समय इरफ़ान की तुलना कपिल देव से भी की गयी थी.

शिखर पर पहुँचने के बाद बनाए नहीं रख पाए जगह

कभी लाखो में थी इस खिलाड़ी के एक रन की कीमत, अब नहीं मिल रहा है टीम इंडिया में जगह 2

इरफ़ान ने अपनी अच्छी गेंदबाजी और बल्लेबाजी से एक अच्छे गेंदबाज ऑल राउंडर की पहचान बनायी. पर एक गेंदबाज ऑल राउंडर से ऑलराउंडर बनने के चक्कर में वह अपनी गेंदबाजी की धार खो बैठे. जिसके चलते वह भारतीय टीम से बाहर हो गए. उन्होंने अपना आखिरी वनडे 2012 में खेला था. इसके बाद से वह टीम में वापसी नहीं कर पाए.

ये भी पढ़ें – एमएसके प्रसाद ने बताया क्यों हार्दिक को किया गया टेस्ट टीम से बाहर

 

अगर आपकों हमारा आर्टिकल पसंद आया, तो प्लीज इसे लाइक करें. अपने दोस्तों तक ये खबर सबसे पहले पहुंचाने के लिए शेयर करें. साथ ही अगर आप कोई सुझाव देना चाहते हैं, तो प्लीज कमेंट करें. अगर आपने अब तक हमारा पेज लाइक नहीं किया हैं, तो कृपया अभी लाइक करें, जिससे लेटेस्ट अपडेट हम आपकों जल्दी पहुंचा सकें.

Related posts

Leave a Reply