फाफ डू प्लेसिस ने वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में भारतीय टीम के विरुद्ध खेलने से लगता है

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

फाफ डू प्लेसिस ने आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप में भारत दौरे को बताया सबसे मुश्किल 

फाफ डू प्लेसिस ने आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप में भारत दौरे को बताया सबसे मुश्किल

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच ऐतिहासिक एशेज की शुरुआत एक अगस्त से होगी. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल यानी की आईसीसी ने कल वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप को ऑफिशियल तौर पर लॉन्च कर दिया इसके लिए फाफ डू प्लेसिस ने कही यह बात.

आईसीसी ने यह पहली बार टेस्ट क्रिकेट को और रोमांचक और प्रतिस्पर्धी बनाने के लिए की है. आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप का पहला एडिशन जून 2021 तक चलेगा, जबकि इसका फाइनल जून 2021 में लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर खेला जाएगा.

वहीं, इस एडिशन के समाप्त होने के बाद दूसरे एडिशन की शुरुआत होगी, जो अप्रैल 2023 तक चलेगी. इसके लिए अब दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डू प्लेसिस ने बताया की इन कारणों से भारत से मुकाबला उनके लिए सबसे दिक्कत भरा रहेगा.

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के लिए फाफ डू प्लेसिस ने कही यह बात

फाफ डू प्लेसिस

आईसीसी ने वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप को ऑफिशियल तौर पर लॉन्च कर दिया. इसके लिए दक्षिण अफ्रीका इस चैंपियनशिप का अपना पहला दौरा भारत के साथ खेलेगा.

इसी कारण से दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डू प्लेसिस ने कहा है कि भारत का दौरा सबसे मुश्किल दौरा होगा. उन्होंने कहा अगर आप टेस्ट क्रिकेट खेलना चाहते हैं तो ये आपके लिए सबसे बेस्ट टूर्नामेंट है.

फाफ डुप्लेसिस ने कहा कि,

” कोई भी टीम ये कहेगी कि भारत का दौरा किसी भी टीम के लिए सबसे मुश्किल दौरा होता है. हमारे लिए टेस्ट चैंपियनशिप की शुरूआत करना और वो भी भारत से, ये हमारे लिए काफी मुश्किल होगा.”

टेस्ट रैंकिंग में इस स्थान पर है भारत

 

फाफ डू प्लेसिस ने आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप में भारत दौरे को बताया सबसे मुश्किल 1

भारतीय क्रिकेट टीम आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में नंबर 1 पर काबिज है. इसके बाद दूसरे स्थान पर है न्यूजीलैंड  और तीसरे स्थान पर है दक्षिण अफ्रीका. इसमें 9 टीमें हिस्सा लेंगी.

इस दौरान 27 सीरीज और 72 मैच खेले जाएंगे. जो दो टीमें टॉप पर पहुंचेंगी. उनके बीच जून 2021 में इस टूर्नामेंट का फाइनल मुकाबला खेला जाएगा.

उन्होंने कहा कि,

” हमारी टेस्ट टीम अनुभवी है और हमारे पास काफी अच्छे टेस्ट खिलाड़ी भी है. वहीं दो और तीन युवा खिलाड़ी भी हैं जो आगे जाकर अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं.”

 

 

Related posts