फाफ डु प्लेसिस

विश्व कप की शुरुआत 30 मई से हो रही है. इस बार इसका आयोजन इंग्लैंड में किया जा रहा है. पहला मुकाबला इंग्लैंड और साउथ अफ्रीका के बीच होने वाला है. एकतरफ इंग्लैंड के खिलाड़ी पाकिस्तान के खिलाफ सीरीज खेल रहे हैं तो वहीं साउथ अफ्रीका के खिलाड़ी अभी कुछ दिन पहले तक आईपीएल खेल रहे थे. कई ऐसे खिलाड़ी हैं जिनको इस दौरान चोट भी आई है. इस बीच साउथ अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने विश्व कप को लेकर कुछ बातें साझा की हैं.

फाफ डु प्लेसिस ने कही विश्व कप के लिए ये बड़ी बात 

फाफ डु प्लेसिस

विश्व कप या किसी भी आईसीसी टूर्नामेंट  में साउथ अफ्रीका फाइनल तक पहुचने में नाकामयाब रहती है. जिस वजह से इस टीम को चोकर्स कहते हैं.

उन्होंने कहा,

“हमें विश्वास था कि विश्व कप जीतने के लिए आपको वास्तव में विशेष होना चाहिए, क्योंकि आपको आमतौर पर कुछ ऐसा करना पड़ता है जो आप करते हैं, लेकिन अब हमे बेहतर करना है

जो भी हम लगातार कर रहे हैं, जिस तरह से हमने टीमों को हराते हुए खेला है वही  काम विश्व कप में भी करना होगा, हमें मूल बातों पर ध्यान देना होगा, टीम को भी यह मिलकर करना होगा”

फाफ डु प्लेसिस ने बताया खराब फॉर्म के बाद भी क्यों हाशिम अमला को दिया गया विश्व कप टीम में जगह 1

फाफ डु प्लेसिस नहीं चाहते उनके खिलाड़ियों को विफलता का डर हो

फाफ डु प्लेसिस

“मैं विश्व कप खेला हूं और मैं दबावों को जानता हूं, मैं समझता हूं कि उनसे कैसे निपटना है. एक कारण है कि हम चाहते हैं कि खिलाड़ी खुलकर खेलें – क्योंकि हम नहीं चाहते कि उन्हें विफलता का डर हो,

जो कि विश्व कप में कुछ खिलाड़ियों के लिए हो जाता है. क्योंकि हम कभी जीते नहीं”

खराब फॉर्म के बावजूद इसलिए चुने गए हाशिम अमला 

फाफ डु प्लेसिस

“एक अनुभवी खिलाड़ी के रूप में, वह हमारे टीम में महत्वपूर्ण हैं और वह उन प्रमुख कारणों में से एक थे जिन्हें उन्होंने चुना था.

अगर हम मानते हैं कि हाशीम अमला पहले गेम से सर्वश्रेष्ठ फॉर्म वाला खिलाड़ी बन सकता है तो उसे चुन लिया जाएगा. लेकिन अगर हमें लगता है कि अन्य लोग हैं जो फार्म में अधिक हैं हम उन्हें लेंगे”