विदर्भ के कप्तान फेज फजल ने रणजी खिताब जीत को बताया इससे भी बड़ा

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

रणजी ट्रॉफी का पहला खिताब जीतने के बाद विदर्भ के कप्तान फैज फजल ने दिया भावुक बयान, भारत के लिए खेलना नहीं इसको बताया अपनी सबसे बड़ी उपलब्धि 

रणजी ट्रॉफी का पहला खिताब जीतने के बाद विदर्भ के कप्तान फैज फजल ने दिया भावुक बयान, भारत के लिए खेलना नहीं इसको बताया अपनी सबसे बड़ी उपलब्धि

सोमवार को इंदौर के होल्कर स्टेडियम में विदर्भ ने 83 सालों के रणजी इतिहास में पहली बार रणजी टूर्मामेंट अपने नाम कर इतिहास रच दिया। विदर्भ की टीम ने फैज फजल की कप्तानी में ये सबसे बड़ा कीर्तिमान हासिल किया। विदर्भ की टीम ने इस बार रणजी इतिहास में पहली बार फाइनल में जगह बनायी थी और पहले ही फाइनल में फैज फजल ने अपनी टीम को जोरदार कामयाबी दिलायी।

रणजी ट्रॉफी का पहला खिताब जीतने के बाद विदर्भ के कप्तान फैज फजल ने दिया भावुक बयान, भारत के लिए खेलना नहीं इसको बताया अपनी सबसे बड़ी उपलब्धि 1

 

विदर्भ के कप्तान फैज फजल ने भारत के प्रतिनिधित्व से भी बड़ी उपलब्धि माना रणजी खिताब को

रणजी के रण में फतह करने के बाद विदर्भ के कप्तान फैज फजल बेहद ही खुश हैं। फैज फजल की खुशी तो छुपाए नहीं छुप रही है। फैज फजल ने अपनी इसी खुशी में भारतीय टीम में मिली जग से भी बढ़कर रणजी ट्रॉफी के टाइटल जीतने को अपने जीवन की सबसे बड़ी उपलब्धियों में से एक करार दिया। आपको बता दें कि फैज फजल को साल 2016 में जिम्मबाब्वे के दौरे पर भारतीय टीम में शामिल किया था जहां पर फजल ने एक पचासा भी जड़ा था।

रणजी ट्रॉफी का पहला खिताब जीतने के बाद विदर्भ के कप्तान फैज फजल ने दिया भावुक बयान, भारत के लिए खेलना नहीं इसको बताया अपनी सबसे बड़ी उपलब्धि 2

रणजी ट्रॉफी जीतना मेरे करियर की सबसे बड़ी उपलब्धि

विदर्भ के कप्तान फैज फजल ने रणजी खिताब जीतने के बाद कहा कि “रणजी ट्रॉफी जीतना मेरे करियर की सबसे बड़ी उपलब्धि है। मैं जानता हूं कि भारत के लिए खेलना मेरे लिए बहुच बड़ी बात है क्योंकि किसी एक व्यक्ति के रूप में आप इसे हासिल कर सकते हैं। मैं हमेशा ही एक टीम मैन की तरह रहा हूं। टीम के लिए ट्रॉफी जीतना एक बहुत बड़ी चीज है। मैं अपने आयु वर्ग क्रिकेट से ही विदर्भ की टीम का नेतृत्व कर रहा हूं। और रणजी टीम को लीड करना कभी आसान नहीं रहता है।”

रणजी ट्रॉफी का पहला खिताब जीतने के बाद विदर्भ के कप्तान फैज फजल ने दिया भावुक बयान, भारत के लिए खेलना नहीं इसको बताया अपनी सबसे बड़ी उपलब्धि 3

हमेशा रहा था रणजी ट्रॉफी जीतने का सपना

इसके साथ ही फैज फजल ने आगे कहा कि “ये जीत किसी पटकथा से कम नहीं है। इसका अहसास बताया नहीं जा सकता। एक क्रिकेटर के तौर पर हम हमेशा ही रणजी ट्रॉफी जीतने का सपना पाले रखते हैं। तो ये हमारे करियर में सबसे बड़ी चीज है। ये आज हो ही गया और मैं बहुत खुश हूं। अभी तो हम सातवें आसमान पर हैं। लेकिन फिर से हम जमीन पर आएंगे और फिर कल से हम हमारे काम को शुरू कर देंगे।”

रणजी ट्रॉफी का पहला खिताब जीतने के बाद विदर्भ के कप्तान फैज फजल ने दिया भावुक बयान, भारत के लिए खेलना नहीं इसको बताया अपनी सबसे बड़ी उपलब्धि 4

शुरू से ही नजर थी ट्रॉफी जीत पर

अपनी टीम के जीत के मंत्र को लेकर कप्तान फैज फजल ने कहा कि “पहले दिन से ही मैंने सोचा था कि इसे हम जीत सकते हैं। इस सीजन से पहले मैं इंग्लैंड में था, और जब में नागपुर आया और चंदू सर से मिला तो सबसे पहली जीत मैं जानना चाहता था कि कैसे ट्रॉफी को जीता जा सके। इसके बाद प्रक्रिया को शुरू कर दिया और हमारा पहला मैच पंजाब के खिलाफ था जो टर्निंग पॉइंट रहा। अब चाहता था कि पूरी टीम ईरानी कप में हिस्सा ले।”

रणजी ट्रॉफी का पहला खिताब जीतने के बाद विदर्भ के कप्तान फैज फजल ने दिया भावुक बयान, भारत के लिए खेलना नहीं इसको बताया अपनी सबसे बड़ी उपलब्धि 5

पूरी टीम का रहा है बड़ा योगदान

इसके साथ ही फैज ने आगे कहा कि “मैं  टीम को पूरी तरह से मुक्त होकर लीड कर रहा था। ये जीत इतनी आसान भी नहीं रही है। इसके पीछे चंदू सर आए, जाफर भाई(वसीम जाफर) कर्ण शर्मा, गणेश सतीश सबने बड़ा योगदान दिया। इसके बिना ये मुमकिन नहीं था।”

Related posts

Leave a Reply