विराट कोहली

बुधवार 3 फ़रवरी का दिन ट्विटर के लिहाज़ से एक काफ़ी सुर्खियों भरा दिन रहा. सरकार की तरफ़ से लाए गए कृषि कानूनों के विरोध में चल रहे किसान आंदोलन को अचानक से विदेशी और अंतरराष्ट्रीय हस्तियों का समर्थन मिलने लगा. जिसके बाद भारत में किसान आंदोलन और उसको मिले समर्थन पर बहस तेज़ हो गई.

विदेशी हस्तियों द्वारा किसान आंदोलन के समर्थन में ट्वीट करते ही मंगलवार 3 फ़रवरी को भारत में सोशल मीडिया पर #IndiaAgainstPropaganda का हैशटैग तेज़ी से ट्रैंड करने लगा. इसी हैशटैग पर ट्वीट करते हुए  तमाम भारतीय क्रिकेटर्स और अन्य कई हस्तियों ने भारत के मामलों में बाहरी दखल को नकारने की बात कही.

किसान आंदोलन से जुड़े ट्वीट्स को लेकर ट्रोल हुए क्रिकेटर

ट्विटर पर ट्रोल हुए क्रिकेटर

अब चूंकि मामला किसान आंदोलन का था जिससे देश की जनता के एक बड़े हिस्से की भावनाएं जुड़ी हुई है. राजधानी दिल्ली की सीमाओं पर कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन कर रहे किसानों का काफ़ी लोग समर्थन कर रहे हैं और उनके लिए आवाज़  भी उठा  रहे हैं. इसी सिलसिले में पॉपस्टार रिहाना और युवा पर्यावरणविद ग्रेटा थनबर्ग जैसी विदेशी हस्तियों ने भी आंदोलन कर रहे  किसानों के समर्थन में ट्वीट किया.

लेकिन जैसे ही भारतीय क्रिकेटर्स की  तरफ़ से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर किसान आंदोलन को मिले समर्थन की आलोचना की गई और #IndiaAgainstPropaganda को ट्रैंड कराया गया तो कई क्रिकेट फ़ैंस जो इस आंदोलन के भी पूरे समर्थन में थे, उन्होंने तुरंत अपने क्रिकेट स्टार्स को निशाना बनाना शुरु कर दिया. फ़ैंस ने इस पूरे मसले  पर क्रिकेटर्स की जम कर आलोचना की उन्हें ट्विटर  पर ट्रोल भी किया.

इस तरह फ़ैंस ने ट्विटर पर क्रिकेटर्स अन्य हस्तियों को बनाया निशाना