भारतीय टीम से जल्द बाहर होगा यह स्टार भारतीय क्रिकेटर 'आंकड़े है अब तक के बेहद शर्मनाक' | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

भारतीय टीम से जल्द बाहर होगा यह स्टार भारतीय क्रिकेटर ‘आंकड़े है अब तक के बेहद शर्मनाक’ 

भारतीय टीम से जल्द बाहर होगा यह स्टार भारतीय क्रिकेटर ‘आंकड़े है अब तक के बेहद शर्मनाक’

केपटाउन में खेला जा रहा तीन टेस्ट मैचों की ‘फ्रीडम सीरीज’ का पहला टेस्ट सोमवार, 8 जनवरी को खत्म हो गया. मेजबान साउथ अफ्रीका की टीम ने न्यूलैंड्स में खेला जा रहा पहला टेस्ट पूरे 72 रनों से जीतकर अपने नाम किया.

आप सभी की जानकारी के लिए बता दे, कि विराट एंड कंपनी को केपटाउन टेस्ट जीतने के लिए चौथे दिन के खेल में 208 रनों का लक्ष्य मिला था, लेकिन टीम इस उचित लक्ष्य के जवाब में मात्र 135 रन ही बना सकी और ऑल आउट हो गयी.

साहा हीरो बनकर, बने विलन 

भारतीय टीम से जल्द बाहर होगा यह स्टार भारतीय क्रिकेटर 'आंकड़े है अब तक के बेहद शर्मनाक' 1

केपटाउन टेस्ट में टीम इंडिया की हार का एकमात्र सबसे बड़ा और मुख्य कारण टीम की खराब बल्लेबाजी रही. कोई भी खिलाड़ी ओनी जिम्मेदारी के साथ रन ना बना सका. सलामी बल्लेबाज मुरली विजय से लेकर विकेटकीपर रिद्धिमान साहा तक सभी ने अपने शर्मनाक प्रदर्शन से सभी को खासा निराश किया.

केपटाउन टेस्ट में टीम इंडिया के विकेटकीपर रिद्धिमान साहा ने कहने को तो मैच में पूरे 10 कैच पकड़े और एक नायाब इतिहास भी रचा, लेकिन इसके बाद भी वह खेल प्रेमियों के निशाने पर आ गये. दरअसल उन्होंने कीपिंग में तो पूरे शत प्रतिशत अंक मिल गये, लेकिन बल्लेबाजी में उन्हें सिवाए आलोचनाओं के और कुछ ना मिला.

पूरे टेस्ट की दोनों पारियों में मिलाकर वह सिर्फ कुल 8 रन ही बना सके. डबल डिजिट के स्कोर को पार करने में भी वह एकदम नाकाम रहे. क्रिकेट के कई जानकारों की माने, तो टेस्ट क्रिकेट में एक विकेटकीपर का सिर्फ कीपिंग करना गवारा नहीं हैं… उसे रन भी बनाने पड़ते हैं.

टीम को जरूरत हैं एक अच्छे विकेटकीपर बल्लेबाज की 

भारतीय टीम से जल्द बाहर होगा यह स्टार भारतीय क्रिकेटर 'आंकड़े है अब तक के बेहद शर्मनाक' 2

रिद्धिमान साहा वाकई में एक दमदार विकेटकीपर हैं, लेकिन भारतीय टेस्ट टीम को सिर्फ एक कीपर की जरूरत नहीं हैं, उसे इसके साथ एक बल्लेबाज भी चाहिए. जाहिर सी बात हैं, कि टीम ऐसे खिलाड़ी को ज्यादा समय तक कैसे अपने साथ रख सकती हैं जो सिर्फ एक कीपिंग करे…

साहा एक अच्छे खिलाड़ी हैं,लेकिन उन्हें अपनी जिम्मेदारीयों को जल्द ही समझना पड़ेगा. रिद्धिमान को महेंद्र सिंह धोनी के विकल्प के रूप में देखा जाता हैं. मगर केपटाउन टेस्ट के बाद यह बात एकदम साफ़ हो गयी, कि एमएस धोनी का विकल्प बनाना इतना भी आसान नहीं हैं. धोनी जैसा बनाना, तो मुश्किल हैं किन्तु अगर उन्होंने अपनी बल्लेबाजी पर धयान ना दिया, तो जल्द टीम से अपनी जगह को सकते हैं.

टेस्ट क्रिकेट में अभी तक रिद्धिमान साहा ने कुल 32 मैच खेले हैं और 30 की औसत के साथ कुल 1164 रन बनाये हैं. उनके खाते में सिर्फ तीन शतक दर्ज हैं. भारतीय उपमहाद्वीप और वेस्टइंडीज की सरजमी को छोड़ दिया जाए, तो साहा का सर्वश्रेष्ठ स्कोर 35 का रहा हैं.

भारतीय टीम से जल्द बाहर होगा यह स्टार भारतीय क्रिकेटर 'आंकड़े है अब तक के बेहद शर्मनाक' 3

अगर विदेशी सरजमी पर आने वाले समय में रिद्धिमान साहा प्रदर्शन ना कर सके, तो जाहिर तौर पर टीम से उनकी छुट्टी होनी तय हैं.

Related posts

Leave a Reply