धोनी समेत 40 उम्रदराज खिलाड़ियों को गुजरना होगा सबसे कठिन टेस्ट से,फेल होने पर नहीं मिलेगी जगह

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

धोनी ने स्थापित किया बेंच मार्क, यो-यो टेस्ट के अलावा अब भारतीय टीम में जगह बनाने के लिए पास करना होगा ये टेस्ट 

धोनी ने स्थापित किया बेंच मार्क, यो-यो टेस्ट के अलावा अब भारतीय टीम में जगह बनाने के लिए पास करना होगा ये टेस्ट

आईपीएल 2018 का खिताब चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान एमएस धोनी के नाम रहा है। इस सीजन धोनी ने अपने बढ़ती उम्र के बीच दमदार प्रदर्शन कर सभी को चकित कर दिया। कुछ लोग पहले धोनी के खराब प्रदर्शन की अलोचना कर रहे थे, लेकिन आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन करके धोनी ने तमाम अलोचनाओं में विराम लगा दिया। 14 साल के अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट करियर में धोनी एक बार फिर भारतीय टीम के लिए फिटनेस का बेंचमार्क बनकर उभरे हैं।

 

धोनी टीम में सबसे ज्यादा फिट

धोनी ने स्थापित किया बेंच मार्क, यो-यो टेस्ट के अलावा अब भारतीय टीम में जगह बनाने के लिए पास करना होगा ये टेस्ट 1
फोटो क्रेडिट-बीसीसीआई

पिछले सप्ताह चेन्नई सुपरकिंग्स ने तीसरी बार आईपीएल का खिताब अपने नाम किया है। इस दौरान धोनी की फिटनेस काफी चर्चा में रही है। धोनी की फिटनेस को लेकर टीम इंडिया के पूर्व शारीरिक पशिक्षक रामजी श्रीनिवासन ने बड़ा खुलासा किया है । इस साल वो चेन्नई सुपरकिंग्स के साथ जुड़कर काम कर रहे है। उन्होंने एक  बयान में बताया कि, ”धोनी टीम की रैंक में अभी भी सभी से ज्यादा फिट है।”

जून में होगा 40 खिलाड़ियों का फिटनेस टेस्ट

धोनी ने स्थापित किया बेंच मार्क, यो-यो टेस्ट के अलावा अब भारतीय टीम में जगह बनाने के लिए पास करना होगा ये टेस्ट 2
©ESPNcricinfo

चेन्नई सुपरकिंग्स फ्रेंचाइजी ने रामजी को खिलाड़ियों के लिए  विभिन्न आयु वर्ग के हिसाब से फिटनेस शिविर आयोजित करने को कहा था। चेन्नईसुपरकिंग्स के ट्रेनर का कहना है कि धोनी एक बार फिर उदाहरण बनकर उभरे हैं।

उन्होंने कहा कि पूर्व कप्तान बेंचमार्क बनकर उभरे हैं। 40 से अधिक उम्रदराज क्रिकेटर जून के पहले सप्ताह में बेंगलूरू में फिटनेस टेस्ट से गुजरना होगा।  बीसीसीआई सूत्रों के मुताबिक 5 वें और 10 वें के बीच खिलाड़ियों को फिटनेस में प्राथमिकता दी जाएगी।

कठिन टेस्ट से गुजरना होगा

धोनी ने स्थापित किया बेंच मार्क, यो-यो टेस्ट के अलावा अब भारतीय टीम में जगह बनाने के लिए पास करना होगा ये टेस्ट 3
फोटो क्रेडिट-बीसीसीआई

जिन 40 उम्रदराज खिलाड़ियों का बेंगलूरू में टेस्ट होना है। उन्हें कठिन टेस्ट से गुजरना होगा। इन सभी खिलाड़ियों के लिए यो-यो टेस्ट अनिवार्य है। वहीं बीसीसीआई दोहरी ऊर्जा अवशोषण को मापने वाले डेक्सा टेस्ट की योजना बनाई है। यह एक शरीर की संरचना और हड्डी के स्वास्थ्य को मापने के लिए प्रयोग किए जाने वाला अंतर्राष्ट्रीय मानक है। 10 मिनट तक चलने वाला यह परीक्षण शरीर में मौजूद वसा को मापता है।

चूंकि फिटनेस मौजूदा समय में चुनौतीपूर्ण प्राथमिकताओं में शामिल है। लेकिन 36 वर्षीय धोनी युवा क्रिकेटरों के लिए बेंचमार्क है। उनके फिटनेस को देखों,जो साल भर खेले भी नहीं हैं। वह काफी प्रभावशाली है। यह बात सीएसके के ट्रेनर रामजी ने कही।

Related posts

Leave a Reply