5 कारण, क्यूँ इस वर्ष भारतीय आईपीएल में रूचि नहीं दिखा रहे

Gautam / 29 April 2016

 

आईपीएल 9 संस्करण में भारतीय दर्शको की रूचि पिछले संस्करणों की अपेक्षा बहुत कम देखा जा रही है. शुरूआती 10 दिनों की टीआरपी के आंकड़ो पर नज़र डाले तो ज्ञात होगा,कि इस वर्ष आईपीएल देखने वाले क्रिकेट प्रेमियों की संख्या में भरी गिरावट आई हैं. यह चिंता का विषय है, कि मुंबई इंडियंस का वानखेड़े स्टेडियम, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर का एम चिन्नास्वामी स्टेडियम और कोलकता का ईडन गार्डन अपनी क्षमता के अनुसार पूरी तरह से नहीं भर नहीं पाया है.

 

यह हो सकते हैं संभावित कारण-

 

1) जरुरत से ज्यादा क्रिकेट

क्रिकेट फेन अत्यधिक टी-ट्वेंटी क्रिकेट से थक चुके हैं. जनवरी 2016 से भारत की टीम टी-ट्वेंटी क्रिकेट खेल रही है. भारत ने एशिया कप टी-ट्वेंटी अपने नाम किया, लेकिन मुंबई के वानखेड़े मैदान पर हार पर विश्वकप से बाहर हुए और वेस्ट-इंडीज ने टी-ट्वेंटी विश्वकप अपने नाम किया. विश्वकप की हार से गुस्साये हुए क्रिकेट फैन की अब आईपीएल में कोई रूचि नहीं दिख रही हैं.

मुंबई क्रिकेट असोसिएशन के कोषाध्यक्ष नितिन दलाल ने हिन्दुस्तान टाइम्स से कहा क्रिकेट का जरुरत से ज्यादा होने भी एक कारण हैं, यहाँ (वानखेड़े स्टेडियम) टी-ट्वेंटी से पहले 4 अभ्यास मैच भी हुए हैं”.

Related Topics