पांच ऐसे मौके जब अपनी गेंदबाजी से वीरेन्द्र सहवाग ने टीम को जीत दिलाई

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

पांच ऐसे मौके जब अपनी गेंदबाजी से वीरेन्द्र सहवाग ने टीम इंडिया को दिलाई जीत 

पांच ऐसे मौके जब अपनी गेंदबाजी से वीरेन्द्र सहवाग ने टीम इंडिया को दिलाई जीत

भारत के पूर्व विस्फोटक सलामी बल्लेबाज वीरेन्द्र सहवाग अपनी तेज पारियों की वजह से पूरे विश्व में मशहूर हैं. लेकिन बहुत से मौकों पर उनकी गेंदबाजी ने भी बेहतरीन प्रदर्शन किया है. उनके समय के हर कप्तान उनकी पार्ट टाइम गेंदबाजी का समय समय पर उपयोग करते थे. 20 अक्टूबर को सहवाग 40 साल के हो जाएंगे.

इस मौके पर सहवाग की कुछ यादगार गेंदबाजी.

वीरेंद्र सहवाग
वीरेंद्र सहवाग

2010 एशिया कप

2010 एशिया कप के दूसरे मैच में शाकिब-अल-हसन ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. मैच के 30वें ओवर में बांग्लादेश की टीम 155 रन पर अपने पांच विकेट गंवा चुकी थी.

इसके बाद धोनी ने सहवाग को आक्रमण पर लगाया.सहवाग ने महज 6 रन खर्च कर बांग्लादेश के चार बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा. बांग्लादेश की टीम 167 रन बनाकर ऑल आउट हो गई.

वीरेन्द्र सहवाग
वीरेन्द्र सहवाग

भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया, 3/59

2000-01 सत्र में हुए इस मैच में सहवाग को छठे स्थान पर बल्लेबाजी के लिए भेजा गया था. उन्होंने 54 गेंद में 58 रन बनाए. भारत ने इस मैच में 315 रन का स्कोर बनाया और आस्ट्रेलिया की टीम ने 316 रन के लक्ष्य को पाने के लिए मैथ्यू हेडन और मार्क वॉ को उतारा हेडन दीवार की तरह जमे हुए थे.
इसके बाद सहवाग को आक्रमण पर लगाया गया और उन्होंने हेडन को 99 रन के निजी स्कोर पर पवेलियन भेजा. उन्हें मैन ऑफ द मैच भी चुना गया.

 2002  चैंपियंस ट्रॉफी  3/25

उन्होंने इस पारी की शुरुआत करते हुए शानदार 59 रन बनाए. इस मैच में भारत ने 261 रन बनाए थे. 262 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी दक्षिण अफ्रीका की टीम को सहवाग ने तीन झटके भी दिए. उन्होंने जैक कैलिस, मार्क बाउचर और लांस क्लूजनर जैसे दिग्गज बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई.
वीरेन्द्र सहवाग
वीरेन्द्र सहवाग
2/32 और 2/39
इस टेस्ट मैच में शानदार प्रदर्शन करते हुए सहवाग ने पहली पारी में 32 रन देकर दो विकेट झटके. इसमें चंद्रपॉल जैसे दिग्गज बल्लेबाज का विकेट भी शामिल है. दूसरी पारी में भी उन्होंने कमाल की गेंदबाजी की और दो विकेट अपनी झोली में डाले.

तीसरा टेस्ट, दिल्ली, 2008, 5/ 104

इस मैच में ऑस्ट्रेलिया को गेंद से काफी परेशान किया. घरेलू मैदान पर हाई स्कोरिंग मैच में भारत ने सात विकेट पर 713 रन बनाकर पारी घोषित की. उन्होंने 104 रन खर्च कर पांच विकेट अपनी झोली में डाले. यह पहला और अंतिम मौका था जब उन्होंने किसी टेस्ट मैच की एक पारी में पांच विकेट चटकाए.

अगर आपकों हमारा आर्टिकल पसंद आया, तो प्लीज इसे लाइक करें. अपने दोस्तों तक ये खबर सबसे पहले पहुंचाने के लिए शेयर करें. साथ ही अगर आप कोई सुझाव देना चाहते हैं, तो प्लीज कमेंट करें. अगर आपने अब तक हमारा पेज लाइक नहीं किया हैं, तो कृपया अभी लाइक करें, जिससे लेटेस्ट अपडेट हम आपकों जल्दी पहुंचा सकें

Related posts

Leave a Reply