मौके गंवाने के कारण मिली हार : कुक | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

मौके गंवाने के कारण मिली हार : कुक 

मौके गंवाने के कारण मिली हार : कुक

मुंबई, 12 दिसम्बर (आईएएनएस)| भारत के खिलाफ वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए चौथे टेस्ट मैच में मिली हार के बाद इंग्लैंड के कप्तान एलिस्टर कुक ने कहा कि उनकी टीम को यह हार मौके गंवाने के कारण मिली है। कुक ने साथ ही टीम चयन को भी हार का जिम्मेदार बताया।

कुक ने माना कि उस विकेट पर जहां भारतीय स्पिनरों ने मैच में 19 विकेट लिए, उस पर चार तेज गेंदबाजों के साथ उतरना गलती थी।

भारत की तरफ से इस मैच में कप्तान विराट कोहली (235), मुरली विजय (136) और जयंत यादव (104) की बेहतरीन पारियों के कारण बने 631 रन के सामने इंग्लैंड का पहली पारी का 400 रनों का स्कोर छोटा पड़ गया।

इंग्लैंड ने इन तीनों ही बल्लेबाजों को जीवनदान दिए थे और कुक के मुताबिक यही उनकी हार का बड़ा कारण रहा। विजय जब 45 रनों पर खेल रहे थे तभी जॉनी बेयरस्टो ने उन्हें स्टम्प करने का मौका गंवा दिया था।

आदिल रशीद ने 68 के निजी स्कोर पर विराट कोहली का मुश्किल कैच छोड़ दिया था और जोए रूट ने जयंत यादव को आठ के निजी स्कोर पर स्लिप में जीवनदान दिया था।

यह भी पढ़े : मुंबई टेस्ट : भारत कि ऐतिहासिक जीत पर आया, बीसीसीआई अध्यक्ष अनुराग ठाकुर का बड़ा बयान

कुक ने मैच के बाद कहा, “हम बार-बार मौके गंवा रहे हैं। हां, हमारे पास एक और स्पिनर होना चाहिए था लेकिन इस टीम के साथ भी हम भारत को 400 रनों के भीतर आउट कर सकते थे, लेकिन हमने मौकों को भुनाया नहीं।”

कुक ने कहा, “विराट ने बेशक शानदार पारी खेली। लेकिन, जब वह 60 रनों के करीब थे तब हमारे पास उन्हें आउट करने का मौका था। यादव ने शतक लगाया, हमारे पास उन्हें भी आउट करने के कुछ मौके आए लेकिन हम उन्हें अपने पक्ष में भुना नहीं पाए। यही चीजें मैच हारने का कारण साबित हुईं। इन्हीं के कारण हमें हार का सामना करना पड़ा।”

कुक ने इस बात को कबूल किया कि उनको अतिरिक्त तेज गेंदबाज की जरूरत नहीं थी। कुक ने कहा, “यह गलती थी। ऐसा तब होता है जब टेस्ट मैच के बीच में अभ्यास मैच नहीं होते हैं। हम देखना चाहते थे कि चार गेंदबाज किस तरह गेंदबाजी करते हैं। क्योंकि यही वे गेंदबाज हैं जिन्होंने इस दौर में हमको संतुलित प्रदर्शन करके दिया है। हमारे दो सर्वश्रेष्ठ स्पिनर मोइन और रशीद हैं।”

कुक ने कहा, “अगर हम पहले गेंदबाजी करते तो हमारे चार तेज गेंदबाज काम आते लेकिन जब आप पहले बल्लेबाजी करते हैं तो चार तेज गेंदबाजों की जरूरत नहीं पड़ती है।”

कुक ने भारतीय कप्तान कोहली की जमकर तारीफ की और कहा,

“वह इस समय अविश्वसनीय फॉर्म में हैं। आप एक कप्तान और खिलाड़ी के तौर पर जिस तरह की श्रृंखला की कल्पना करते हैं उन्होंने वैसा प्रदर्शन किया है। वह सामने से टीम का नेतृत्व कर रहे हैं, खूब रन बना रहे हैं। वह हमारी पीढ़ी के महान बल्लेबाज हैं।”

Related posts