इस वजह से सचिन और धोनी को अफरीदी की ड्रीम इलेवन टीम में नहीं मिली जगह 

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

शाहिद अफरीदी ने बताया वह कारण, जिसकी वजह से सचिन और धोनी को नहीं मिली उनकी ड्रीम इलेवन टीम में जगह  

शाहिद अफरीदी ने बताया वह कारण, जिसकी वजह से सचिन और धोनी को नहीं मिली उनकी ड्रीम इलेवन टीम में जगह 

शाहिद अफरीदी ने हाल में ही अपनी विश्व कप ड्रीम टीम का चयन किया था. अफरीदी ने इस ड्रीम टीम में पांच पाकिस्तानी खिलाड़ी को जगह दी थी. वहीं भारत से सिर्फ विराट कोहली को ही जगह दी थी. उन्होंने सचिन तेंदुलकर और एमएस धोनी जैसे खिलाड़ियों को भी अपनी विश्व कप टीम में शामिल नहीं किया था. हालाँकि, अब शाहिद अफरीदी ने वह कारण बताया है. जिसकी वजह से उन्होंने सचिन और धोनी को अपनी ड्रीम टीम में जगह नहीं दी.

इस प्रकार हैं शाहिद अफरीदी की विश्व कप ड्रीम टीम

शाहिद अफरीदी ने बताया वह कारण, जिसकी वजह से सचिन और धोनी को नहीं मिली उनकी ड्रीम इलेवन टीम में जगह  1

शाहिद अफरीदी का ऑल-टाइम वर्ल्ड कप XI: सईद अनवर, एडम गिलक्रिस्ट, रिकी पोंटिंग, विराट कोहली, इंजमाम उल-हक, जैक्स कैलिस, वसीम अकरम, ग्लेन मैकग्रा, शेन वॉर्न, शोएब अख्तर, सकलेन मुश्ताक

गिलक्रिस्ट और अनवर को लेने के बाद नहीं बन पाई सचिन, धोनी के लिए जगह 

Afridi disclosed his age in autobiography

शाहिद अफरीदी ने पीटीआई से बात करते हुए अपने एक बयान में कहा, “सचिन और धोनी महान हैं और उन्होंने भारतीय क्रिकेट के लिए बहुत कुछ हासिल किया है, लेकिन मैंने कोहली को अपनी विश्व कप टीम में शामिल किया है, क्योंकि वह वर्तमान में दुनिया का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज है. कोहली की बल्लेबाजी लाजवाब और काफी सुंदर है, इसलिए निश्चित रूप से उनकी जगह इस टीम में बनती है. 

वहीं विकेटकीपर के रूप में मेरे पास पहले से ही एडम गिलक्रिस्ट है, जिनका रिकॉर्ड विश्व कप में शानदार है और वहीं ओपनिंग में भी सईद अनवर है, इसलिए शायद धोनी और सचिन की जगह नहीं बन पाई है.”

दोनों देशों के बीच जरुर हो द्विपक्षीय सीरीज

शाहिद अफरीदी ने बताया वह कारण, जिसकी वजह से सचिन और धोनी को नहीं मिली उनकी ड्रीम इलेवन टीम में जगह  2

शाहीद अफरीदी ने पीटीआई से बात करते हुए अपने बयान में आगे कहा, “मैं अब भी मानता हूं, कि क्रिकेट एक तरह से दोनों देशों के बीच तनाव को कम करने का तरीका है और हमें नियमित रूप से द्विपक्षीय सीरीज खेलनी चाहिए, क्योंकि जब हम एक दूसरे के देशों का दौरा करेंगे तो लोगों से संपर्क करने वाले लोगों की संख्या अधिक होगी और गलतफहमी कम होगी. 

जब साल 2004 में भारतीय टीम ने पाकिस्तान का दौरा किया था, तब पाकिस्तानी लोगों ने सभी भारतीय खिलाड़ियों, अधिकारियों को सम्मान, प्यार और सत्कार दिखाया था, लोग और सरकारी अधिकारी सभी मैच देखने भारी संख्या में आ रहे थे. यह एक शानदार माहौल था और मेरा मानना है, कि ऐसा फिर से करना चाहिए. पाकिस्तान और भारतीय लोग अपने खिलाड़ियों से प्यार करते हैं और इन दोनों टीमों के बीच द्विपक्षीय सीरीज चाहते हैं.”

 

 

अगर आपकों हमारा आर्टिकल पसंद आया, तो प्लीज इसे लाइक करें. अपने दोस्तों तक ये खबर सबसे पहले पहुंचाने के लिए शेयर करें. साथ ही अगर आप कोई सुझाव देना चाहते हैं, तो प्लीज कमेंट करें. अगर आपने अब तक हमारा पेज लाइक नहीं किया हैं, तो कृपया अभी लाइक करें, जिससे लेटेस्ट अपडेट हम आपकों जल्दी पहुंचा सकें.

Related posts