इस वजह से शिखर धवन की जगह नहीं मिलेगा भारतीय टीम को कोई भी रिप्लेसमेंट

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

इस वजह से शिखर धवन की जगह नहीं मिलेगा भारतीय टीम को कोई भी रिप्लेसमेंट! 

इस वजह से शिखर धवन की जगह नहीं मिलेगा भारतीय टीम को कोई भी रिप्लेसमेंट!

भारतीय टीम के प्रशंसकों के लिए आज 11 जून मंगलवार को उस समय एक बहुत बुरी खबर आई है. जब भारतीय टीम के स्टार ओपनर बल्लेबाज शिखर धवन अपने अंगूठे की चोट के चलते विश्व कप 2019 से 21 दिनों के लिए बाहर हो गये हैं. शिखर धवन का चोटिल होना भारतीय टीम के लिए एक बहुत बड़ी समस्या है.

बीसीसीआई ने नहीं किया अबतक रिप्लेसमेंट का ऐलान

संजय बांगर

आपकों बता दें, कि बीसीसीआई ने अबतक शिखर धवन के रिप्लेसमेंट का ऐलान नहीं किया है. बीसीसीआई की तरफ से शिखर धवन के 21 दिनों तक बाहर होने का, तो अधिकारिक बयान आ चूका है, लेकिन उनके रिप्लेसमेंट का कोई अधिकारिक बयान नहीं आया है.

शिखर धवन की जगह नहीं मिलेगा भारतीय टीम को कोई भी रिप्लेसमेंट!

इस वजह से शिखर धवन की जगह नहीं मिलेगा भारतीय टीम को कोई भी रिप्लेसमेंट! 1

शिखर धवन की जगह शायद भारतीय टीम को कोई भी रिप्लेसमेंट नहीं मिलने वाला है. इसका कारण यह है, कि भारतीय टीम से शिखर धवन को सिर्फ 21 दिनों के लिए बाहर किया गया है.

टीम मैनेजमेंट को लगता है, कि वह 3 हफ्ते बाद पूरी तरह से सही हो जायेंगे, इसलिए टीम उन्हें अपने साथ बनाये रखना चाहती है. शिखर धवन टीम के सबसे मुख्य खिलाड़ियों में से एक है, इसलिए मैनेजमेंट उन्हें पूरे विश्व कप से बाहर नहीं करना चाहता है.

टीम मैनेजमेंट उनकी चोट के सही होने का इंतजार करना चाहता है. शिखर धवन अगर टीम में बने रहते हैं, तो आईसीसी के नियमों के मुताबिक भारतीय टीम को उनका रिप्लेसमेंट नहीं मिल पायेगा. अगर शिखर धवन को पूरे विश्व कप से बाहर किया जाता, तो निश्चित ही भारतीय टीम को शिखर धवन का रिप्लेसमेंट इल जाता.

नियम के मुताबिक़ डेल स्टेन को करना पड़ा बाहर

इस वजह से शिखर धवन की जगह नहीं मिलेगा भारतीय टीम को कोई भी रिप्लेसमेंट! 2

बता दें, कि इसी नियम को ध्यान में रखते हुए साउथ अफ्रीका की टीम को डेल स्टेन को भी विश्व कप से बाहर करना पड़ा था. डेल स्टेन साउथ अफ्रीका के 4-5 मैचों बाद फिट हो सकते थे, लेकिन लुंगी नगीदी को भी चोट लग गई थी और अफ्रीका को गेंदबाजों की कई खल गई थी. इसके चलते साउथ अफ्रीका टीम ने बड़ा फैसला लेते हुए डेल स्टेन को बाहर किया था और तब जाकर उन्हें बुरहान हेंड्रिक्स के रूप में एक तेज गेंदबाज मिल पाया था.

Related posts