महेंद्र सिंह धोनी को पूर्व कप्तान आसिफ इकबाल ने दी ग्लव्स की वजह से नसीहत

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान आसिफ इकबाल भी हुए धोनी के फैन, बताया दुनिया का सबसे अच्छा इंसान 

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान आसिफ इकबाल भी हुए धोनी के फैन, बताया दुनिया का सबसे अच्छा इंसान

12वे विश्व कप का आगाज इंग्लैंड और वेल्स की धरती पर हो गया है. इस विश्व के शुरुआत से ही पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने 5 जून को दक्षिण अफ्रीका और भारत के मैच के बाद महेंद्र सिंह धोनी की मुश्किलें बढ़ा दी हैं. धोनी के ग्लव्स पर बने बलिदान के चिन्ह के कारण पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को दिक्कत थी. फिलहाल रविवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हुए मैच मे धोनी ने बिना किसी चिन्ह का ग्लव्स पहन कर मैच खेला.

आसिफ इकबाल ने दी महेंद्र सिंह धोनी को नसीहत

महेंद्र सिंह धोनी

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान आसिफ इकबाल जो कि फिलहाल इंग्लैंड मे रह रहे है उन्होंने एक इंटरव्यू मे बोला कि धोनी एक खिलाड़ी से भी ज्यादा एक अच्छे इंसान है, तो ऐसे मे उनको खुद से ही ऐसा कोई काम नही करना चाहिए जिसके कारण वह विवादों मे फंसे.

उन्होंने कहा कि संन्यास लेने के बाद महेंद्र सिंह धोनी के पास बहुत समय होगा अपने देश के लिए कुछ करने के लिए और अपनी देशभक्ती दिखाने के लिए. देशभक्ती दिखाने के लिए विश्व कप कोई सही मंच नहीं है. उन्होंने कहा वैसे धोनी का इरादा किसी की भावनाओं को ठेस पहुँचाने का नहीं था.

आईसीसी मे एक कोड होता है, जिसमें यह स्पष्ट रूप से लिखा होता है कि ग्लव्स पर सिर्फ दो लोगो होने चाहिए. जब यह देखा गया कि धोनी इस नियम का उल्लंघन कर रहे है तो उन्हें वो चिन्ह हटाने के लिए कहा गया. अगर वह ऐसा नहीं करते तो उन्हें दंडित किया जाता.

आसिफ ने कहा

“मैं इस विचार से असहमत हूं कि  यह लोगो को हटाने से देशभक्ती का अपमान होता . सभ्य समाज मे, नियम और कानून होते है जिनका पालन करना आवश्यक होता है. जब आप नियमों को तोड़ते हैं, तो आपको दंडित किया जाता है”.

किस वजह से बढ़ा महेंद्र सिंह धोनी का विवाद

महेंद्र सिंह धोनी

5 जून को भारत ने विश्व कप का अपना पहला मैच दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेला जिसमे धोनी के ग्लव्स पर बलिदान का चिन्ह देखा गया जिसके बाद से पाकिस्तान को दिक्कत हो गई.

महेंद्र सिंह धोनी के ग्लव्स पर बना यह चिन्ह, पैरा स्पेशल फोर्सेज के ‘बलिदान’ बैच का है. धोनी ने इस बैच की बेसिक ट्रेनिंग 2015 में पूरी की थी. धोनी पैरा फ़ोर्स मे बतौर लेफ्टिनेंट कर्नल हैं.

धोनी की यह ट्रेनिंग पैरा ट्रेनिंग स्कूल आगरा में हुई. 2 हफ्तों के ट्रेनिंग में धोनी ने 5 पैराशूट जंप किये थे. जिसके बाद उन्हें पैरा ट्रुपर विंग्स मिले थे. बलिदान का बैच पैरा कमांडो ट्रेनिंग पूरा करने वालो को ही मिलता है.

भारत का आगे का सफ़र

महेंद्र सिंह धोनी

फिलहाल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए मैच मे धोनी ने सादे ग्लव्स पहने जिस पर कोई भी चिन्ह नहीं था. अब भारत अपना तीसरा मैच गुरुवार को न्यूजीलैंड के विरुद्ध खेलेगा. इसके बाद इस टूर्नामेंट का सबसे  दिलचस्प मैच 16 जून को  चिर प्रतिद्यंदी पाकिस्तान के खिलाफ खेलने उतरेगा. अभी तक भारत अपने दोनों मैच जीत चुका है. वही पाकिस्तान ने दो मैच खेले है. जिसमे  कि उसने एक मे जीत हासिल की और एक मे हार का स्वाद चखा  है.

 

Related posts