दोस्ती और प्रदर्शन दोनों अलग अलग चीज़ें है : शिखर धवन

sagar mhatre / 15 September 2016

भारतीय सलामी बल्लेबाज शिखर धवन को ऐसा लगता हैं कि, सलामी बल्लेबाज के तौर पर जगह बनाने के लिए स्पर्धा होना भारतीय क्रिकेट के लिए काफी अच्छा हैं.

शिखर धवन ने दुलीप ट्रॉफी के बाद मिडिया से बातचीत करते हुए कहा, कि लोकेश राहुल टेस्ट के साथ साथ टी ट्वेंटी क्रिकेट में भी काफी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं, और ये भारतीय क्रिकेट के लिए अच्छी बात हैं. इससे हमारे बीच स्पर्धा बढ़ गयी हैं. और जो भारतीय टीम में आना चाहते हैं उनके लिए भी अच्छा हैं. और इसी तरह से भारतीय क्रिकेट को फायदा होने वाला हैं.

यह भी पढ़े : न्यूज़ीलैण्ड के खिलाफ 15 सदस्यों की भारतीय टीम घोषित, दो बदलाव किये गए

शिखर धवन ने कहा, कि लोकेश राहुल अगर न्यूजीलैंड के खिलाफ मुरली विजय के साथ बतौर सलामी बल्लेबाज़ आते हैं तो मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता. मुझे अमेरिका में टी ट्वेंटी से बाहर किया गया था, लेकिन इससे मैं खुदको और मजबूत खिलाड़ी बनाने की कोशिश करुंगा, और ये मेरे लिए अच्छा हैं.

शिखर धवन ने कहा, दोस्ती और प्रदर्शन दोनों अलग अलग चीजें हैं. अगर आप प्रदर्शन नहीं कर पाए तो आपको बाहर ही किया जाएगा, और इसमे मेरी और विराट कोहली की दोस्ती का कोई संबंध नहीं हैं.

शिखर धवन ने कोच अनिल कुंबले के साथ अनुभव पर कहा, कि वे हमारी टीम के लिए एक प्रेरणास्थान हैं. वे काफी आक्रमक कोच हैं, और वे खेल को काफी गंभीरता से लेते हैं. उनके जैसा कोच होना काफी अच्छी बात हैं.

शिखर धवन ने आखिर में कहा, कि न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज के लिए हम तैयार हैं. उनके पास केन विल्यमसन, रॉस टेलर और टीम साऊदी जैसे खिलाड़ी हैं. लेकिन यहां पर पिचें स्पिनरों के मददगार होगी, लेकिन उनके पास भी अच्छे स्पिनर हैं. उन्होंने टी ट्वेंटी विश्वकप में हमे स्पिनरों की मदद से हराया था. और हम उन्हें हल्के में नहीं लेंगे.

यह भी पढ़े : टीम में न चुने जाने पर गंभीर की पहली प्रतिक्रिया

शिखर धवन को न्यूजीलैंड के खिलाफ अंतिम ग्यारह में मौका मिलना मुश्किल हैं, क्योंकि लोकेश राहुल को मौका मिलना लगभग तय हैं.

न्यूजीलैंड के खिलाफ पहला टेस्ट मैच 22 सितंबर से कानपुर में खेला जाएगा.