in ,

जयदेव उनादकट रहे सबसे महंगे भारतीय खिलाड़ी तो खुद को रोक नहीं सके सौरव गांगुली और दे डाला ये विवादित बयान

इंडियन प्रीमियर लीग की नीलामी के बाद अब पूर्व भारतीय क्रिकेटर और कप्तान सौराव गांगुली ने आईपीएल में नीलाम हुए खिलाड़ियों को लेकर बड़ा बयान दिया है और कहा है कि किसी भी खिलाड़ी की योग्यता को उसकी कीमत अर्थात जिसे उतने पैसों से खरीदा है उससे नहीं होगी। चाहे उन्हें कितने भी कम पैसों में खरीदो या ज्यादा में प्रदर्शन तो वह अपने अंदाज में ही करेंगे। इसी बीच कैश-रिच आईपीएल को सौराव गांगुली ने इसे “मांग और आपूर्ति” वाला है बताया हैं।

इसी बीच जब क्रिकेट बुक ऑफ़ ईयर की 20वीं सालगिरह पर गांगुली से पुछा गया कि रिद्धिमान साहा को सनराइजर्स हैदराबाद ने 5 करोड़ और दिनेश कार्तिक को कोलकाता नाईट राइडर्स द्वारा 7 करोड़ 4 लाख में खरीदे जाने पर आप ज्यादा वरीयता किसे देना चाहेंगे। तो इसके जवाब में गांगुली ने बड़े ही सहजता से जवाब दिया और कहा कि आप किसी भी खिलाड़ी की कीतम के आधार पर परख नहीं सकते अर्थात आप यह नहीं जान पायेंगे कि कौनसा खिलाड़ी कितना अच्छा खेलेगा। खिलाड़ी तो अपना वही प्रदर्शन करेगा चाहे उनकी बोली ज्यादा लगी हो या कम।

इसके बाद सौरव गांगुली ने आगे कहा कि “दक्षिण अफ्रीका के हाशिम आमला जिनके नाम अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट में आज कुल 54 शतक है लेकिन इन्हें किसी भी टीम ने नहीं खरीदा जबकि बिहार के ईशान किशन को मुंबई इंडियंस ने 6 करोड़ 20 लाख में खरीदा है सिर्फ रणजी क्रिकेट में अच्छा खेलने के कारण। इस कारण आप खिलाड़ियों पर लगी बोली के हिसाब से परख नहीं सकते।

गांगुली ने आगे बढ़ते हुए कहा कि “आईपीएल एक अलग ही प्रारूप का है इस कारण इसे हमें अलग नजरिये से देखना चाहिए। यह मांग और आपूर्ति के नीति के अनुसार चलता है। इस बार आईपीएल में भारत की तरफ से जयदेव उनादकट सबसे महंगे खिलाड़ी रहे है जिन्हें राजस्थान रॉयल्स ने 11 करोड़ 50 लाख में खरीदा है।”

इसी बीच पूर्व दिग्गज गांगुली ने आज से शुरू हो रही भारत और अफ्रीका के बीच 6 वनडे मैचों की सीरीज को लेकर कहा कि इस बार दोनों ही टीमें बराबर के हिसाब से देख सकते है। लेकिन भारत को इस सीरीज में जीत हासिल करनी है तो बल्लेबाजों को भी अच्छे से प्रदर्शन करना हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बड़ी खबर: एबी डिविलियर्स की जगह पहले वनडे में इस खिलाड़ी को मिला मौका, अभी तक खेला है एकमात्र मैच

पीसीबी ने खादिल लतीफ़ की याचिका को किया खारिज तो ये दो और खिलाड़ी फंस सकते है स्पॉट फिक्सिंग में