गौतम गंभीर

भारतीय जनता पार्टी के मौजूदा सांसद गौतम गंभीर को दिल्ली एंड डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट असोसिएशन का नया अध्यक्ष चुने जाने की बात हो रही है. 13 जनवरी 2020 को डीडीसीए को अपने नए प्रेसिडेंट के नाम का ऐलान करना है और अगर सब कुछ सही रहता है, तो गौतम गंभीर को इस पद को संभालने के लिए कहा जा सकता है. हालांकि अब इस बात की पुष्टि तो 13 जनवरी को ही हो पाएगी.

गौतम गंभीर को बनाया जा सकता है प्रेसिडेंट

गौतम गंभीर

जुलाई 2018 में वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा पूर्व क्रिकेटर मदन लाल को 517 मतों से हराकर दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) के अध्यक्ष बने थे. लेकिन रजत शर्मा ने कुछ वक्त पहले ही डीडीसीए के प्रेसिडेंट पद से इस्तीफा दे दिया. इसके बाद से ये पद खाली है.

अब अधिकारी गौतम गंभीर को प्रेसिडेंट बनाने के बारे में सोच रहे हैं. अब गौतम गंभीर के करीबी सूत्रों ने रिपब्लिक टीवी से बात करते हुए कहा, अगर गंभीर को मौका दिया जाता है, तो वह डीडीसीए को आगे से और उदाहरण के लिए और विधिवत निर्वाचित प्रक्रिया के जरिए प्रेसिडेंट पद की भूमिका निभाने के लिए तैयार करना चाहते हैं.

REPORTS: गौतम गंभीर होंगे DDCA के अगले प्रेसिडेंट? 1

अधिकारी गंभीर को बनाना चाहते हैं प्रेसिडेंट

गौतम गंभीर

डीडीसीए की मीटिंग के दौरान दो पक्षों के बीच बहस हुई और बहस ने धीरे-धीरे झगड़े का रूप ले लिया. वहीं डीडीसीए के एक अधिकारी ने आईएएनएस से कहा कि कोलकाता नाइट राइडर्स को दो बार इंडियन प्रीमियर लीग का खिताब दिलाने वाले कप्तान से बात की गई है, क्योंकि गंभीर कप्तान थे और उन्हें इंटरनेशनल लेवल पर खेलने का अनुभव भी है, जो डीडीसीए को वापस पटरी पर लाने में मदद करेगा.

अधिकारी ने आगे गंभीर की उपलब्धियों के बारे में बात करते हुए कहा, गंभीर ने केकेआर का भविष्य बदला था. दिल्ली क्रिकेट में उनके योगदान को भुलाया नहीं जा सकता है. हमने देखा है कि बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने प्रशासक के तौर पर अपनी नेतृत्व क्षमता का बहुत अच्छी तरह इस्तेमाल किया है. इसी तरह हमें लगता है कि गंभीर इस समय डीडीसीए के लिए सही ऑप्शन हैं.