गौतम गंभीर ने पहले टेस्ट मैच के लिए रोहित शर्मा नहीं बल्कि उनको राय देने वाले इस

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

गौतम गंभीर ने पहले टेस्ट मैच के लिए रोहित शर्मा नहीं बल्कि इस खिलाड़ी को बताया मैन ऑफ़ द मैच 

गौतम गंभीर ने पहले टेस्ट मैच के लिए रोहित शर्मा नहीं बल्कि इस खिलाड़ी को बताया मैन ऑफ़ द मैच

भारतीय टीम ने दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध अपना पहला टेस्ट मैच जीत लोइय, इसके बाद  आज 10 अक्टूबर से वह दूसरे टेस्ट मैच के लिए तैयार है, ऐसे में अब सबकी नजर  है इस  टेस्ट मैच में, यह टेस्ट मैच पुणे में खेला जा रहा है, जहाँ एक बार फिर स्पिन गेंदबाजों को मदद मिलेगी, कुछ बाउंसर भी देखने को मिलेंगे, ऐसे में अब पूर्व भारतीय खिलाड़ी, और भाजपा के सांसद गौतम गंभीर ने इस पिच को लेकर अपनी राय दी है.

गौतम गंभीर ने पहले टेस्ट मैच के लिए रोहित शर्मा नहीं बल्कि इस खिलाड़ी को बताया मैन ऑफ़ द मैच 1

गौतम गंभीर ने साझा की अपनी पुरानी याद

गौतम गंभीर

विजाग में भारत की जीत को देख कर गौतम गंभीर को 90 के दशक में हुए एक मैच की याद दिला गया है. गौतम गंभीर ने टाइम्स ऑफ़ इंडिया में लिखे गए अपने कॉलम में उन्होंने बताया कि,

” विजाग में हुए पहले टेस्ट मैच ने मेरी पुरानी यादें ताजा कर दी, जिस तरह से भारत ने टॉस जीता उसके बाद पहले बल्लेबाजी करने उतरे उसके बाद विशाखापटनम की पिच ने जिस तरह से स्पिन गेंदबाजो का साथ दिया, इसके बाद स्पिन गेंदबाजो ने दक्षिण अफ्रीका के 20 में से 14 विकेट स्पिनर के पाल में गए, बचे हुए विकेट मोहम्मद शमी जैसे रिवर्स गेंदबाजों ने झटक लिए, ऐसा ही  कुछ हुआ था वर्ष 1990 में जहाँ पिच, टॉस और स्पिन गेंदबाजी को जीत का सारा श्रेय दिया जाता था यही  कारण था कि उस समय भारत की धरती पर भारतीय टीम को हराना मुश्किल था, आज भी मैच जीतने के बाद टीम से ज्यादा स्पिन गेंदबाज और पिच को पूरा श्रेय दिया जाता है.”

गंभीर ने सुझाव दिया कि पुणे की पिच पर लाल मिट्टी भारतीय स्पिनरों को अधिक उछाल देगी, जिससे दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज के लिए मुश्किल होगी.

” पिच को देखते हुए पुणे अलग नहीं होगा, पश्चिमी भारत में सबसे ज्यादा लाल मिट्टी पाई जाती है, और यह मिट्टी पिच पर उछाल देती है, लेकिन मुझे नहीं लगता है कि दक्षिण अफ्रीका के गेंदबाज भारतीय टीम को चुनौती दे पाएंगे, यहाँ कि पिच दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया की पिच से थोडा अलग है.”

रोहित, साहा और अश्विन की हुई तारीफ

रोहित शर्मा

गंभीर ने भारतीय विकेटकीपर रिद्धिमान साहा और ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन की भारतीय टीम में वापसी के लिए उनकी सराहना की उनके प्रदर्शन पर ख़ुशी जताते हुए उन्होंने कहा कि,

“मैं इन दोनों की वापसी से वाकई बहुत खुश हु, जिस तरह कि गेंदबाजी अश्विन ने की वो काबिले तारीफ था, इसके बाद साहा ने बल्लेबाजी में बहुत ज्यादा कुछ ना किया हो लेकिन, इसके बाद भी वह एक महान विकेट कीपर है, लेकिन उनके अंदर क्रिकेट का बहुत ज्ञान  है उनको पता है कि उनको कहाँ कैसा प्रदर्शन दिखाना है.”

इन सब के बाद उन्होंने रोहित की तारीफ कि और अपने पहले टेस्ट में बतौर सलामी बल्लेबाज उतरने के बाद भी उनके शतकों की तारीफ की

“दूसरी बात यह कि जिसने भी रोहित शर्मा को टेस्ट मैचों में अपना स्वाभाविक खेल खेलने की सलाह दी, वह मेरा मैन ऑफ द मैच था. रोहित को रक्षात्मक मोड में लाना आसान है, क्योंकि यह टेस्ट क्रिकेट है. लेकिन मुझे खुशी है कि रोहित ने ऐसा किया, मैं उसको दुनिया के सबसे खतरनाक और सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज के रूप में देखता हूँ, आज वीरेंद्र सहवाग की तरह, रोहित भी भारत के लिए टेस्ट जीत स्थापित कर सकते हैं.”

Related posts