गौतम गंभीर ने टेस्ट क्रिकेट को बेहतर बनाने के लिए आईसीसी को दिया खास सुझाव

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

गौतम गंभीर ने टेस्ट क्रिकेट को बेहतर बनाने के लिए आईसीसी को दिया खास सुझाव 

गौतम गंभीर ने टेस्ट क्रिकेट को बेहतर बनाने के लिए आईसीसी को दिया खास सुझाव

टेस्ट क्रिकेट के अस्तित्व पर लगातार सवाल खड़े होते रहे हैं। टी-20 क्रिकेट के आने के बाद से लोगों की टेस्ट क्रिकेट से रूचि कम हुई है। टेस्ट मैच 5 दिनों तक चलता है और इसके बाद भी कई बार नतीजे नहीं निकलते हैं। टी-20 मैच 3 घंटे का होता है और इसमें दर्शकों को ताबड़तोड़ क्रिकेट देखने को मिलती है।

गौतम गंभीर ने दी प्रतिक्रिया

गौतम गंभीर ने टेस्ट क्रिकेट को बेहतर बनाने के लिए आईसीसी को दिया खास सुझाव 1

भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने इस मुद्दे पर प्रतिक्रिया दी है। उनका मानना है कि टेस्ट क्रिकेट को लोगों तक पहुँचने की जरूरत है। टाइम्स ऑफ इंडिया के अपने कॉलम में उन्होंने लिखा

“इसमें कोई शक नहीं है कि टेस्ट क्रिकेट को आज के टी-20 के युग में बने रहने के लिए समस्या का सामना करना पड़ रहा है। मैं परंपरावादी हूं, लेकिन टेस्ट क्रिकेट को हजारों लोगों तक पहुंचने की जरूरत है। मुख्य मुद्दों पर ध्यान दिया जाना चाहिए।”

आईसीसी को दी सलाह

गौतम गंभीर ने टेस्ट क्रिकेट को बेहतर बनाने के लिए आईसीसी को दिया खास सुझाव 2

टेस्ट क्रिकेट में गेंद की भूमिका काफी अहम होती है। भारत में जहां एसजी की गेंदों का इस्तेमाल किया जाता है वहीं इंग्लैंड में ड्यूक तो कई जगह कुलाबुरा की गेंद का इस्तेमाल किया जाता है। इस बारे में गंभीर ने कहा

“हो सकता है कि आईसीसी टेस्ट क्रिकेट में इस्तेमाल की जाने वाली क्रिकेट गेंद के लिए मानक मापदंडों को सूचीबद्ध कर सकता है और निर्माताओं के लिए निविदा जारी कर सकता है। आईसीसी को अपने गेंदबाजी पार्टनर बनाने की जरूरत है। अगर आर अश्विन जैसा स्पिनर रोमांचित हो जाता है, अगर वह एसजी या ड्यूक की हार्ड सिम वाली गेंद मिलती है।”

चैंपियनशिप की शुरुआत हुई

गौतम गंभीर ने टेस्ट क्रिकेट को बेहतर बनाने के लिए आईसीसी को दिया खास सुझाव 3

टेस्ट क्रिकेट को रोमांचक बनाये रखने के लिए आईसीसी ने टेस्ट चैंपियनशिप की शुरुआत की है। इसमें 9 टीमें हिस्सा ले रही है। इसका फाइनल मुकाबला साल 2021 में इंग्लैंड के लॉर्ड्स में खेला जायेगा।

चैंपियनशिप में सेमीफाइनल मुकाबले नहीं होंगे। टेबल में टॉप पर रहने वाली दो टीमों के बीच फाइनल खेला जायेगा। उससे पहले सभी टीमें अपने घर और घर से बाहर तीन- तीन टेस्ट सीरीज खेलेगी।

Related posts