आख़िरकार अब खुद गौतम गंभीर ने बताया क्यों दिल्ली रणजी टीम के कोच भास्कर के साथ हुई उनकी लड़ाई | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

आख़िरकार अब खुद गौतम गंभीर ने बताया क्यों दिल्ली रणजी टीम के कोच भास्कर के साथ हुई उनकी लड़ाई 

आख़िरकार अब खुद गौतम गंभीर ने बताया क्यों दिल्ली रणजी टीम के कोच भास्कर के साथ हुई उनकी लड़ाई

हम सभी जानते भारतीय टीम के पूर्व ओपनिंग बल्लेबाज गौतम गंभीर को जिन्होंने भारत को दों वर्ल्डकप जिताने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई हैं, उन्हें क्रिकेट के मैदान में बेहद ही आक्रामक बल्लेबाजों की श्रेणी में रखा जाता था. गौतम गंभीर को उनके गुस्से के कारण प्रथम श्रेणी मैच में चार मैच का बैन झेलना पड़ा था जब इस साल विजय हजारे ट्रॉफी के दौरान भुवनेश्वर में उन्होंने दिल्ली टीम के कोच केपी भास्कर से लड़ गयें थे.

आख़िरकार अब खुद गौतम गंभीर ने बताया क्यों दिल्ली रणजी टीम के कोच भास्कर के साथ हुई उनकी लड़ाई 1

सभी डर गए थे

आख़िरकार अब खुद गौतम गंभीर ने बताया क्यों दिल्ली रणजी टीम के कोच भास्कर के साथ हुई उनकी लड़ाई 2

गंभीर और भास्कर की इस लड़ाई के कारण पूरी दिल्ली की टीम काफी डर से गयीं थी. भास्कर का दिल्ली रणजी टीम कोच के रूप में पहला ही सीजन था. गंभीर और भास्कर के बीच काफी कहा सुनी होने लगी जिसके बाद विजय हजारे ट्रॉफी खत्म होने के बाद युवा खिलाड़ियों को ड्रेसिंग रूम के अंदर भेज दिया.

दोनों के बीच ये हुआ था

आख़िरकार अब खुद गौतम गंभीर ने बताया क्यों दिल्ली रणजी टीम के कोच भास्कर के साथ हुई उनकी लड़ाई 3

गौतम गंभीर और भास्कर के बीच इस लड़ाई का कारण भास्कर का गलत तरीके से अभ्यास कराना था, जिससे दिल्ली के खिलाड़ियों का खेलने का स्तर काफी खराब हो रहा था और गंभीर को यही बात अच्छी नहीं लगी और उन्होंने इसी बात को लेकर कोच भास्कर से लड़ गयें.

इस मामले में जब गंभीर से बात की गयीं तो उन्होंने कहा कि “कोच भास्कर खिलाड़ियों के करियर के साथ खेल रहे थे, जो मुझे बिल्कुल भी पसंद नहीं आयीं, जिसमे युवा खिलाड़ी उन्मुक्त चंद, नितीश राणा और पवन नेगी जैसे नाम भी शामिल हैं.”

दिल्ली क्रिकेट संघ ने दी सजा

आख़िरकार अब खुद गौतम गंभीर ने बताया क्यों दिल्ली रणजी टीम के कोच भास्कर के साथ हुई उनकी लड़ाई 4

इस मामले की पूरी सुनवाई के बाद दिल्ली और जिला क्रिकेट संघ की तरफ से नियुक्त जज विक्रमजीत सेन और दूसरे लोगो ने गंभीर पर अनुशासक कार्यवाही करते हुए उनको चार मैच के बैन की सजा सुना दी वहीं कोच भास्कर को उनके दूसरे सहयोगियों का साथ मिला गया. दिल्ली टीम के स्टार खिलाड़ी सुमित नरवाल का साथ जरुर इस मामले में गंभीर को मिला लेकिन उनके इस साथ को कमेटी ने नकार दिया.

गौतम गंभीर के इस बैन का असर ये हुआ कि उन्हें इस साल की शुरुआत में दिल्ली टीम की कप्तानी पद से भी इस्तीफा देना पड़ा और इस समय चल रही दिलीप ट्रॉफी के मैच में भी उन्हें किसी टीम में शामिल नहीं किया गया.

अब रणजी का सीजन बहुत जल्द शुरू होने वाला हैं और इस समय गंभीर अपनी कप्तानी वापस पा सकेंगे या नहीं इस पर कोच भास्कर और नयें गेंदबाजी कोच मनोज प्रभाकर पर बहुत कुछ निर्भर करेगा.

आख़िरकार अब खुद गौतम गंभीर ने बताया क्यों दिल्ली रणजी टीम के कोच भास्कर के साथ हुई उनकी लड़ाई 5

Related posts

Leave a Reply