विश्व कप 2011 फाइनल के छक्के को किया याद तो भड़क गये गौतम गंभ

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

विश्व कप 2011 फाइनल के छक्के को किया याद तो भड़क गये गौतम गंभीर, कहा कुछ ऐसा 

विश्व कप 2011 फाइनल के छक्के को किया याद तो भड़क गये गौतम गंभीर, कहा कुछ ऐसा

आज के दिन ही 9 वर्ष पहले भारतीय टीम ने महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई में 28 वर्ष के बाद विश्व कप जीता था. विश्व कप 2011 के फ़ाइनल में भारतीय टीम ने श्रीलंका को हराकर ये ख़िताब जीता था. ईएसपीएन क्रिकइंफो ने आज जब महेंद्र सिंह धोनी के उस छक्के को याद किया तो सोशल मीडिया पर गौतम गंभीर बुरी तरह से भड़क गये.

विश्व कप 2011 फाइनल छक्के को किया याद तो भड़क गये गौतम गंभीर

विश्व कप 2011

वानखेड़े स्टेडियम में भारत और श्रीलंका की टीम विश्व कप 2011 के फाइनल मैच में आमने सामने थी. भारतीय टीम को जब 4 रनों की जरुरत थी उस समय नुवान कुलशेखरा की गेंद पर महेंद्र सिंह धोनी ने गगनचुंबी छक्का लगा कर भारतीय टीम को विश्व विजेता बना दिया.

आज उसको 9 साल पूरे हो गये जिसपर ईएसपीएन क्रिकइंफो ने धोनी के छक्के की एक फोटो शेयर किया और उस जीत को याद भी किया तो उसी टीम का हिस्सा रहे गौतम गंभीर बुरी तरह भड़क गये और जवाब दिया कि

” बस आपको याद दिला दूँ ईएसपीएन क्रिकइंफो वो विश्व कप जीतने में पूरे भारत का, पूरी भारतीय टीम का और सपोर्ट स्टाफ का सहयोग था. बहुत हुआ एक छक्के के लिए ही आपका इतना प्यार.”

गौतम गंभीर का मानना विश्व कप 2011 का पूरा श्रेय धोनी को मिला

विश्व कप 2011

उस विश्व कप फाइनल मैच में सचिन तेंदुलकर और वीरेन्द्र सहवाग के आउट होने के बाद गौतम गंभीर ने ही जिम्मेदारी संभाली थी और अंत तक खेलने का प्रयास किया था. हालाँकि वो 97 रन बना कर आउट हो गये थे. उसके साथ ही भारतीय टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने उस मैच में नाबाद 91 रनों की पारी खेली.

गंभीर को हमेशा से ही इस बात की परेशानी रही है की उस विश्व कप जीत का श्रेय धोनी को ज्यादा मिलता है. जिसके लेकर वो बोलते आयें हैं. लेकिन कप्तान होने के नाते धोनी की टीम कहा जाता है. हालाँकि फाइनल जीतने में गौतम गंभीर ने बहुत अहम योगदान दिया था. जिसके कारण 28 वर्षो का वनवास ख़त्म हुआ था.

कोरोना वायरस के कारण बंद हो गया है क्रिकेट

ईडन गार्डन्स

मौजूदा समय में क्रिकेट नहीं खेली जा रही है. जिसका सबसे बड़ा कारण है कोरोना वायरस. इस वायरस के डर के वजह से लोग अपने घरो में कैद हो गये हैं और घरो से बाहर नहीं निकल रहे हैं. कई महत्वपूर्ण सीरीज स्थगित कर दिया गया है. जबकि क्रिकेट की सबसे बड़ी लीग आईपीएल पर भी इस कोरोना वायरस के कारण रद्द होने का खतरा मंडरा रहा है.

Related posts