गौतम गंभीर ने विश्व कप 2011 फाइनल को लेकर धोनी पर लगाया

Trending News

Blog Post

इंटरव्यूज

गौतम गंभीर ने कहा विश्व कप में मेरे 97 रनों पर आउट होने की वजह हैं महेंद्र सिंह धोनी 

गौतम गंभीर ने कहा विश्व कप में मेरे 97 रनों पर आउट होने की वजह हैं महेंद्र सिंह धोनी

पूर्व भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने अब पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पर बहुत बड़ा आरोप लगाया है. उन्होंने 2011 विश्व कप के फ़ाइनल में अपने आउट होने पर धोनी को जिम्मेदार बताया है. उन्होंने अपने पूर्व कप्तान और भारत के सबसे सफल कप्तान पर बड़ा आरोप लगाया है.

गौतम गंभीर ने महेंद्र सिंह धोनी पर लगाया बड़ा आरोप

गौतम गंभीर ने कहा विश्व कप में मेरे 97 रनों पर आउट होने की वजह हैं महेंद्र सिंह धोनी 1

2011 में भारत ने विश्व कप जीता था. उस विश्व कप के फ़ाइनल में गौतम गंभीर ने 97 रन और महेंद्र सिंह धोनी ने 91 रन बनाये थे. अब 97 रन बनाने पर आउट होने वाले गौतम गंभीर ने धोनी पर आरोप लगाते हुए लल्लनटॉप पर कहा कि

अगर मैं आपको सही सच्चाई बताता हूं, तो मुझे भी बुरा लगता है. यह इसलिए है क्योंकि आप पूरी जिंदगी मेहनत करते हैं, सिर्फ अपने लिए रन बनाने के लिए ही नहीं. जब मैं बड़ा हो रहा था, मेरा सपना देश के लिए विश्व कप जीतने का था और मुझे दो ऐसे अवसर मिले जब मैंने विश्व कप फाइनल खेला और मैं उन दोनों में शीर्ष स्कोरर था.

महेंद्र सिंह धोनी पर गौतम गंभीर का ये है सबसे बड़ा आरोप

गौतम गंभीर ने कहा विश्व कप में मेरे 97 रनों पर आउट होने की वजह हैं महेंद्र सिंह धोनी 2

उस रात को याद करते हुए गौतम गंभीर ने उस इन्टरव्यू में कहा कि

यदि आप किसी खिलाड़ी से पूछते हैं की आपने इतना अच्छा प्रदर्शन किया और फिर भी मैन ऑफ द मैच नहीं बने तो ये बहुत दिल दहलाने वाली बात होती है. मुझे ये प्रश्न बहुत बार पूछा गया है की जब आप 97 रनों पर खेल रहे थे तो क्या सोच रहे थे.

जब तक 97 रनों पर पहुँचा नहीं था तब तक अपने बारें में नहीं सोच रहा था लेकिन उस स्कोर पर आने के बाद धोनी ने मुझे बता दिया की मैं शतक से मात्र 3 रन दूर हो पहले अपना शतक पूरा कर लो. उसके बाद मेरे दिमाग में शतक की बाते चलने लगी.

श्रीलंका को हराने के लिए खेल रहा था मैं

गौतम गंभीर ने कहा विश्व कप में मेरे 97 रनों पर आउट होने की वजह हैं महेंद्र सिंह धोनी 3

विश्व कप 2011 में 97 रनों के शानदार पारी के बारें में बोलते हुए गौतम गंभीर ने कहा कि

उससे पहले मेरे दिमाग में बस श्रीलंका को हराने की बात चलती थी. लेकिन उस पल के बाद मैं मैंने शतक के बारें में पूछा. यदि मैं वो नहीं सोच रहा होता तो शायद शतक पूरा कर लेता. आज तक मुझे वो सवाल पूछे जाते हैं की उस तीन रन ना बना पाने का मलाल आपको है या नहीं.

Related posts