गौतम गंभीर ने बताया जस्टिन लैंगर ने मुझे सिखाया बल्लेबाजी में सुधार करना

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

गौतम गंभीर ने इस ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी को दिया अपना बल्लेबाजी सुधारने का श्रेय 

गौतम गंभीर ने इस ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी को दिया अपना बल्लेबाजी सुधारने का श्रेय

पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने अपनी बल्लेबाजी तकनीक में सुधार के लिए वर्तमान ऑस्ट्रेलियाई मुख्य कोच की प्रशंसा की है. गंभीर ने यह भी खुलासा किया है कि उन्होंने भारतीय टीम में वापसी करने के लिए 2015 में जस्टिन लैंगर से मदद मांगी थी. टाइम्स ऑफ इंडिया के लिए अपने कॉलम में गंभीर ने लिखा, “2015 में, मैंने वर्तमान ऑस्ट्रेलियाई कोच जस्टिन लैंगर के साथ काम किया.

गौतम गंभीर ने अपने कॉलम में लिखा

गौतम गंभीर ने इस ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी को दिया अपना बल्लेबाजी सुधारने का श्रेय 1

उस समय, मैं भारतीय टीम में वापसी करने की कोशिश कर रहा था और एक साउंडिंग बोर्ड की आवश्यकता थी. कुछ पूर्व क्रिकेटर्स थे, जिन्होंने मुझे ऑस्ट्रेलियाई टीम के इस पूर्व खिलाड़ी से मिलने को कहा था क्योंकि मेरी तरह ही एक बाएं हाथ के बल्लेबाज थे, मेरी तरह एक सलामी बल्लेबाज थे और मेरी तरह ही थोड़े गंभीर भी थे. हम दोनों को क्रिकेट से जुड़ी बातें करने में मजा आता था. हम दोनों को क्रिकेट से प्यार था. हमने खेल, बल्लेबाजी, मानसिक पहलुओं के बारे में बात की.

जस्टिन लैंगर से बहुत प्रभावित थे गंभीर

गौतम गंभीर ने इस ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी को दिया अपना बल्लेबाजी सुधारने का श्रेय 2

गौतम गंभीर ने आगे कहा जिस चीज ने मुझे सबसे ज्यादा प्रभावित किया वह था लैंगर का क्रिकेट के छोटे छोटे पहेलुओं पर बहुत ही बारीकी से ध्यान देना. वह मेरे बारे में बहुत कुछ जानते थे. लैंगर से मेरी पहली मुलाकात पर्थ के गाभा स्टेडियम में उनके छोटे लेकिन बेहद आकर्षक ऑफिस केबिन में हुई थी. वह पश्चिमी ऑस्ट्रेलियाई टीम के कोच थे.

गंभीर ने याद किया कैसे जस्टिन लैंगर ने बतायीं उनकी बल्लेबाजी की खामियां

गौतम गंभीर ने इस ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी को दिया अपना बल्लेबाजी सुधारने का श्रेय 3

गौतम गंभीर ने कहा मुझे वो लम्हा अच्छी तरह याद है जब उन्होंने मुझे अपने कार्यालय में एक छोटी सी मेज पर कंप्यूटर स्क्रीन पर कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए अपनी बल्लेबाजी की एक क्लिप दिखाई. उन्होंने बड़े ही विस्तार से मुझे बताया कि मेरी बल्लेबाजी में क्या खामिया थी. उन्होंने मेरे स्टांस से लेकर मेरी बैटिंग तक की सभी कमियां बताई.

Related posts