BREAKING: गौतम गंभीर नहीं लेंगे दिल्ली डेयरडेविल्स से आईपीएल में पैसे

Trending News

Blog Post

NEWS

बड़ी खबर: पैसे के लिए देश और सम्मान के लिए खेलता है यह दिग्गज भारतीय, आईपीएल 2018 के लिए अपनी टीम से नहीं लेगा 1 भी रूपये फ़ीस 

बड़ी खबर: पैसे के लिए देश और सम्मान के लिए खेलता है यह दिग्गज भारतीय, आईपीएल 2018 के लिए अपनी टीम से नहीं लेगा 1 भी रूपये फ़ीस

इन दिनों दिल्ली डेयरडेविल्स परेशानी में हैं, क्योंकि पहले तो लगातार हार का सामना कर रही है और अब ऊपर से गंभीर ने कप्तानी भी छोड़ दी है। टीम ने नीलामी में कुछ अच्छे खिलाड़ियों को खरीदा, लेकिन राउंड रॉबिन चरण के माध्यम से आधे सफर के छह मैचों में से पांच खो दिए और उनके कप्तान ने भी अपने हाथ खड़े कर दिए है।

गौतम गंभीर, जो बेहद लोकप्रिय और सफल इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के कप्तान हैं, ने कोलकाता नाइट राइडर्स को दो बार खिताब जीताया था लेकिन इन दिनों खराब खेल के कारण उन्होंने कप्तानी छोड़ दी है।

केकेआर ने गौतम को नही खरीदा था इस कारण डेयरडेविल्स ने आईपीएल 2018 की नीलामी में 2.8 करोड़ रुपये में इन्हें खरीदकर कप्तान बना दिया था। श्रेयस अय्यर, ऋषभ पंत और अन्य लोगों की पसंद वाली युवा टीम को वरिष्ठ समर्थक के चारों ओर से अच्छे खेल की उम्मीद थी।

उन्होंने पहले मैच में बल्ले के साथ अच्छी पारी खेली और अर्धशतक बनाया, लेकिन इसके बाद इन्होंने बाकी 5 मैचों में बहुत खराब क्रिकेट खेली और दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू पाए।

परिणामस्वरूप, उन्होंने कप्तानी छोड़ देने और इसे किसी ऐसे व्यक्ति को सौंपने का फैसला किया जो भविष्य में टीम का नेतृत्व करने में सक्षम हो। दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम मैनेजमेंट ने अय्यर को नए कप्तान के रूप में चुना और वह टूर्नामेंट के बाकी मैचों में कप्तानी करेंगे।

सूत्रों के अनुसार पूर्व दिल्ली के कप्तान ने फैसला किया है, कि वह इस सीज़न खेलने के लिए टीम से कोई वेतन नहीं लेंगे। अब सवाल यही उठता है कि उन्होंने कप्तानी क्यों छोड़ी और सैलरी क्यों नहीं लेना चाहते है।

 

तो गौतम गंभीर नहीं लेंगे सैलरी

न्यूज़ 18 के एक सूत्र का हवाला देते हुए गौतम गंभीर ने फैसला किया है कि वह सीजन के लिए फ्रेंचाइजी से कोई सैलरी नहीं लेंगे। वह दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए आईपीएल के लिए मुफ्त में खेलेंगे। उन्होंने कहा है, “गौतम एक ऐसा इंसान है, जिसके लिये सम्मान सर्वोपरी है। वह कोई पैसा नहीं लेना चाहता है। यह उसका निजी फैसला है।”

Related posts

Leave a Reply

Required fields are marked *