Gautam gambhir slams virat kohli for reacting in stump mic ind vs sa

भारत और दक्षिण अफ्रीका (IND vs SA) के बीच तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का तीसरा मुकाबला केपटाउन में खेला जो विवादों के लिए जाना जायेगा। इस दौरान भारतीय कप्तान और टीम के खिलाड़ियों ने ऐसी गलती कर दी जिसकी चारों तरफ आलोचना हो रही है। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच में विराट कोहली (Virat Kohli) ने DRS के फैसले पर अपनी आक्रामक प्रतिक्रिया जाहिर की थी, जिसको लेकर अब पूर्व भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने भी उनपर निशाना साधा है।

गंभीर ने कोहली पर साधा निशाना

gambhir on virat kohli

दरअसल, तीसरे टेस्ट मैच की दूसरी पारी के दौरान अश्विन द्वारा फेकी गई गेंद पर दक्षिण अफ्रीका के कप्तान डीन एल्गर ने एलबीडब्ल्यू (LBW) के खिलाफ रिव्यू लिया और उन्हें जीवनदान मिल गया। यह घटना पारी के 21वें ओवर में हुई जिसके बाद कप्तान विराट कोहली(Virat Kohli), अश्विन (Ashwin) और केएल राहुल (KL Rahul) इतने नाखुश हुए कि उन्होंने स्टंप के पास जाकर अपनी भड़ास निकाली। इसको लेकर पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने उनकी कड़ी आलोचना की है।

गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने कहा,

”यह बहुत बुरा है। जिस प्रकार से विराट कोहली (Virat Kohli) ने स्टंप के पास जाकर प्रतिक्रिया दी है वो उनकी अपरिपक्वता को दिखाता है। एक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के कप्तान से आप इस प्रकार की उम्मीद नहीं कर सकते हैं। तकनीक आपके हाथ में नहीं है।”

राहुल द्रविड़ जरूर करेंगे कोहली से बात

Virat Kohli

गौतम गंभीर ने आगे कहा,

”इस तरह की प्रतिक्रिया देकर विराट कोहली (Virat Kohli) कभी युवाओं के आदर्श नहीं बन सकते हैं। टेस्ट मैच का परिणाम चाहे कुछ भी हो लेकिन आप एक टेस्ट कप्तान से ऐसी उम्मीद नहीं कर सकते हैं जिसने इतने लंबे समय तक टीम का नेतृत्व किया हो। मुझे पूरा विश्वास है कि कोच राहुल द्रविड़ उनसे जरूर इस बारे में बात करेंगे। राहुल द्रविड़ जिस तरह के कप्तान थे, वो ऐसी प्रतिक्रिया कभी नहीं देते थे।”

स्टंप के पास तीनों खिलाडियों ने निकाली थी भड़ास

virat kohli

आपको बता दें कि तीसरे अंपायर के फैसले के बाद विराट कोहली (Virat Kohli) ने स्टंप माइक के पास आकर बोला था,

“आप अपनी टीम पर फोकस करें, जब वे गेंद को चमकाते हैं। सिर्फ विपक्षी टीम पर नहीं। लोगों को हमेशा पकड़ने की कोशिश करें।”

वहीं, केएल राहुल (KL Rahul) ने कहा था,

”यह पूरा देश 11 खिलाड़ियों के खिलाफ है।”

जबकि आर अश्विन (Ashwin) ने कहा था,

“मैच जीतने का नया तरीका आपको खोजना चाहिए।”