गौतम गंभीर ने एक बार फिर साबित किया जो वो बोलते हैं वो करते भी हैं 1

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर अपनी बेबाक राय के लिए जाने जाते हैं। गौतम गंभीर ने भारतीय क्रिकेट टीम के लिए तीनों ही फॉर्मेट में खेलने में सफलता हासिल की। जिसके बाद साल 2018 में उन्होंने अपने करियर को पूरी तरह से अलविदा कह दिया। गौतम गंभीर का भारतीय क्रिकेट टीम के लिए जो योगदान रहा उसे भुलाया नहीं जा सकता है।

गौतम गंभीर से शुरुआत से ही देश के मुद्दों पर की है बात

भारतीय क्रिकेट टीम के लिए साल 2007 के विश्व टी20 और साल 2011 के वनडे विश्व कप में जिस तरह का योगदान गौतम गंभीर ने दिया है वो अपने आप में खास रहा है। उन्होंने अपने क्रिकेटर करियर के बाद भी देशहित में कई काम के लिए आवाज को बुलंद किया है।

गौतम गंभीर ने एक बार फिर साबित किया जो वो बोलते हैं वो करते भी हैं 2

वैसे दिल्ली के इस दिग्गज बल्लेबाज में शुरुआत से ही देश के मुद्दों को लेकर एक अलग ही नजरिया रहा है। वो देश के मुद्दों को किसी ना किसी तरह से सुलझाने के लिए सबसे आगे रहने की तरफ तैयार रहते हैं।

दिल्ली के गाजीपुर में कूड़े के ढेर को 40 मीटर तक किया गया कम

इसी तरह से भारतीय क्रिकेट टीम से अलविदा कहने का बाद गौतम गंभीर राजनीति में उतर गए हैं जिन्होंने साल 2019 में बीजेपी की तरफ से लोकसभा का चुनाव जीता। इसके बाद से वो दिल्ली के अपने क्षेत्र के लिए खूब काम कर रहे हैं जिसमें उन्होंने इस बार एक ऐतिहासिक काम को पूरा किया जो सालों से नहीं किया जा सका था।

गौतम गंभीर ने एक बार फिर साबित किया जो वो बोलते हैं वो करते भी हैं 3

दिल्ली के गाजीपुर इलाके में लैंडफिल साइट पर करीब 65 मीटर की ऊंचाई का कूड़ा करकट फैला था। ये कूड़ा सालों से लगातार अपनी ऊंचाई लेता जा रहा था लेकिन गौतम गंभीर के प्रयासों से इस कूड़े को 40 फिट तक कम करने का दावा किया गया है। खुद गौतम गंभीर ने मंगलवार को वहां जाकर मौका मुआयना किया।

गौतम गंभीर ने कहा, हिम्मत और मेहनत से बड़े से बड़ा पहाड़ हिल सकता है

इसी को लेकर गौतम गंभीर ने ट्विट पर जानकारी दी। गौतम गंभीर ने इस कूड़े को इस तरह से कम करने को लेकर काफी खुशी जतायी और ट्वीट में लिखा कि

“हिम्मत और मेहनत बड़े से बड़े पहाड़ को हिला सकती है. मैंने वादा किया था कि मैं उद्धार नहीं करूंगा तो फिर कभी चुनाव नहीं लडूंगा। 1 साल में गाजीपुर पूर्वी दिल्ली में एशिया के सबसे बड़े कचरे के पहाड़ को 40 फिट कम किया।”

इसके अलावा गंभीर ने एक और ट्वीट कर लिखा कि “मेरे लिए ये बड़ी बात नहीं है। मेरा मानना है कि मेरे शब्दों पर और मेरे वादे पर मैं कायम रहा। 40 फिट तो नीचे कर दिया है। सैकड़ो के लिए और जाना है।”

One reply on “गौतम गंभीर ने एक बार फिर साबित किया जो वो बोलते हैं वो करते भी हैं”

Comments are closed.