गौतम गंभीर ने मनोज तिवारी से विवाद पर कही ये बात

Trending News

Blog Post

इंटरव्यूज

चार सालों के लंबे अंतराल बाद गौतम गंभीर ने मनोज तिवारी के साथ हुए विवाद पर तोड़ी अपनी चुप्पी 

चार सालों के लंबे अंतराल बाद गौतम गंभीर ने मनोज तिवारी के साथ हुए विवाद पर तोड़ी अपनी चुप्पी

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर को भारत की दो बड़े विश्व कप खिताब साल 2007 का विश्व टी-20 और 2011 के विश्व कप की जीत का नायक के रूप में याद किया जाता है। गौतम गंभीर का दो विश्व कप की जीत में बड़े योगदान के साथ ही विवादों से भी गहरा नाता रहा है।

गौतम गंभीर का रहा है विवादों से नाता

दिल्ली के बाएं हाथ के बल्लेबाज गौतम गंभीर अपने पूरे क्रिकेट करियर के दौरान कई बार विवादों में रहे हैं। मैदान में बहुत ही आक्रमक रवैये के लिए माने जाने वाले गौतम गंभीर कई बार मैदान में विरोधी खिलाड़ियों से भिड़ते देखे गए हैं।

चार सालों के लंबे अंतराल बाद गौतम गंभीर ने मनोज तिवारी के साथ हुए विवाद पर तोड़ी अपनी चुप्पी 1

गंभीर का विवादों से तो जैसे चोली-दामन का साथ रहा है , जिसमें से एक घरेलू क्रिकेट के दौरान बंगाल के खिलाड़ी मनोज तिवारी के साथ विवाद हुआ जहां कहा जा करा था कि गौतम गंभीर ने मनोज तिवारी को बाहर मारने की धमकी दी थीष

गौतम गंभीर ने मनोज तिवारी पर तनातनी को लेकर कही ये बात

अपने इस विवादपर गौतम गंभीर ने लंलनटॉप डॉस कॉम को दिए इंटरव्यू में अपनी बात रखी। मनोज तिवारी के साथ घरेलू क्रिकेट में हुई तनातनी को लेकर गौतम गंभीर ने कहा,

चार सालों के लंबे अंतराल बाद गौतम गंभीर ने मनोज तिवारी के साथ हुए विवाद पर तोड़ी अपनी चुप्पी 2

देखिए ऐसा मैंने कुछ नहीं बोला था, स्लेजिंग जरूर हुई थी और स्लेजिंग हर टीम करती है। स्लेजिंग केवल गाली-गलौच ही नहीं दूसरे तरीके से भी होती है ये एक बंटर होता है। किसी का मजाक उड़ाना, छेड़ना हो सकता है। इस मामले को बढ़ाया गया था मुझे बंगाल से बहुत प्यार मिला है। मैं 7 साल वहां रहा(केकेआर की टीम के लिए) मैं अभी भी कहता हूं जितना मुझे दिल्ली में प्यार मिला है उतना मुझे बंगाल में भी प्यार मिला है। जब ये बोला गया कि मैंने सारे बंगाल के लोगों को गाली दी, सौरव गांगुली को गाली दी, ये बहुत गलत है। उस समय मैं कप्तान नहीं था महेन्द्र सिंह धोनी कप्तान थे तो उनसे सवाल करिए।”

चार सालों के लंबे अंतराल बाद गौतम गंभीर ने मनोज तिवारी के साथ हुए विवाद पर तोड़ी अपनी चुप्पी 3

ऐसी बात कहना दर्शाता है मनोज के माइंट सेट को

केकेआर की टीम से खेलते हुए मनोज तिवारी को प्लेइंग इलेवन से बाहर करने को लेकर गंभीर ने कहा कि “देखिए अगर आप प्रदर्शन नहीं करेंगे तो प्लेइंग इलेवन में कैसे रहेंगे। जब आप कप्तान होते हैं आपकी जिम्मेदारी सारे स्क्वॉड के लिए होती है। 11 खिलाड़ी या एक-दो के लिए नहीं है। अगर हमने उस मैच में चेंज किया था तो आप ट्विटर में लिखेंगे कि मेरी जिंदगी का सबसे खराब दिन है। वो उनका माइंड सेट दर्शाता है।”

Related posts