IPL 2020: गौतम गंभीर ने जसप्रीत बुमराह के तारीफ में कही ये बात, सुनकर आपको होगी बहुत हैरानी 1

विश्व क्रिकेट के इतिहास में अब तक एक से एक शानदार गेंदबाज देखने को मिले हैं। इन गेंदबाजों में बात करें चाहे स्पिन हो या तेज गेंदबाज कुछ नाम तो बहुत ही बड़े रहे हैं जिनका सामना करना किसी भी बल्लेबाज के लिए आसान नहीं रहता था। लेकिन इन तमाम गेंदबाजों में भारतीय टीम के मौजूदा स्टार तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह बहुत ही खास हैं।

जसप्रीत बुमराह बल्लेबाजों के लिए बन चुके हैं अबूझ पहेली

जसप्रीत बुमराह ने क्रिकेट करियर में आने के बाद देखते ही देखते अपनी पहचान को बहुत ही अलग बना दिया है। इनकी गेंदबाजी बहुत ही खतरनाक मानी जाती है, जिन पर किसी भी बल्लेबाज का खेलना काफी मुश्किल माना जाता है।

IPL 2020: गौतम गंभीर ने जसप्रीत बुमराह के तारीफ में कही ये बात, सुनकर आपको होगी बहुत हैरानी 2

आईपीएल के इस सीजन में भी बुमराह बड़े ही खतरनाक साबित हुए हैं। उन्होंने इस सीजन में मुंबई इंडियंस की टीम से खेलते हुए 15 मैचों में 27 विकेट हासिल किए। उन्होंने इस सीजन में खौफनाक गेंदबाजी की है। उनकी गेंदबाजी से गौतम गंभीर काफी प्रभावित हुए हैं। जिन्होंने बुमराह को खास माना है।

किसी भी तरह से आउट कर सकते हैं जसप्रीत बुमराह

भारत के पूर्व बल्लेबाज गौतम गंभीर ने जसप्रीत बुमराह की जमकर तारीफ की जिसमें उन्होंने कहा कि

“सभी बल्लेबाजों को इस गेंदबाज को खेलना काफी मुश्किल रहा है और कई बार ऐसा हुआ है कि डिफेंस करते हुए बल्लेबाज इनकी गेंदों पर आउट हुए है।’

जसप्रीत बुमराह

 “विपक्षी टीम इनके ऊपर दबाव बनाने की कोशिश कर रही है लेकिन ये इतने अच्छे गेंदबाज है कि आप इन्हें आसानी से मार नहीं सकते। अगर आप पिछले मैच में स्टोइनिस और शिखर धवन के आउट होने के तरीके को देखें तो आपकों पता चलेगा कि बुमराह ने कितनी अच्छी गेंद डाली थी।”

बुमराह की गेंद खेलने के लिए तकनीक होनी चाहिए मजबूत

गौतम गंभीर ने आगे कहा कि

‘अगर आप जसप्रीत बुमराह को खेलने की कोशिश करते है और राशिद खान की तरह इनकी भी गेंदों को डिफेंस करने की कोशिश करते है तो कोई भी बल्लेबाज चूक जाएगा। उस बल्लेबाज के बल्ले से या तो इनसाइड ऐज लगेगा या फिर आउटसाइड एज।”

मुंबई इंडियंस

 “बुमराह की गेंदों को खेलने के लिए बल्लेबाज को तकनीकी रूप से काफी मजबूत होना चाहिए। अगर आप उनके गेंदों पर बचने की भी कोशिश करते है तो आउट होने की संभावना बनी रहती है।”