gambhir-virat

विराट कोहली की मेजबानी में कंगारूओं के खिलाफ दूसरे सिडनी वनडे में भी भारतीय टीम ने अपनी हार का सिलसिला बरकरार रखा. रविवार के मैच में ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों ने भारतीय क्रिकेटरों की फिर से खबर ली और गेंदबाजों की जमकर धुनाई की. इंडिया की करारी शिकस्त से एक बार फिर फैंस को सिर्फ निराशा ही हाथ लगी. 51 रन से मैच हारने के साथ ही टीम ने सीरीज भी गंवा दी.

दूसरी हार पर भड़के गंभीर

gautam gambhir

वनडे सीरीज के दूसरे मैच में 390 रन पीछा करने उतरी टीम इंडिया 50 ओवर में 9 विकेट के नुकसान पर सिर्फ 338 रन ही बना सकी. इस मैच में कोहली की कप्तानी से भारत के दिग्गज क्रिकेटर रहे गौतम गंभीर भी खासा नाराज दिखाई दिए. उनका कहना है कि वो बुमराह को नई बॉल से सिर्फ 2 ओवर देने वाले विराट के निर्णय को नहीं समझ सके. गंभीर ने कहा कि,

‘यदि आप मुख्य तेज बॉलर को नई बॉल से दो ओवर डलवाने के बाद रोकते हैं, तो मैं इस तरह की कप्तानी को नहीं समझ सकता. या यूं कहें कि ऐसी कप्तानी की मैं व्याख्या भी नहीं कर सकता. क्योंकि ये कोई टी-20 सीरीज नहीं है. इस मैच में भारतीय टीम को हार का सामना करना पड़ा, क्योंकि कप्तानी बेहद खराब और निराशाजनक थी’.

कोहली की खराब कप्तानी

kohli

दरअसल क्रिकइन्फो से एक बार फिर बात करते हुए गौतम गंभीर ने कोहली की कप्तानी पर एक के बाद एक कई बड़े सवाल खड़े किए हैं. उन्होंने बातचीत के दौरान कहा कि

” मैं ईमानदारी से इस दूसरे सिडनी वनडे मैच के बारे में बात करूं तो कोहली की कप्तानी को समझ ही नहीं पाया. हम बार-बार यही बात दोहरा रहे हैं कि ऑस्ट्रेलिया की बैटिंग लाइन अप को ब्रेक करने के लिए हमें मैच में ज्यादा से ज्यादा विकेट झटकने होंगे. लेकिन ऐसा होता हुआ कुछ खास दिखाई नहीं दे रहा है.”

कोहली की कप्तानी पर उठे सवाल

kohli ravi shastri

गौतम गंभीर को विराट कोहली से इस बात की ज्यादा शिकायत है कि, उन्होंने मेन बॉलरों को मौका नहीं दिया. फिलहाल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत के लगातार दूसरे खराब प्रदर्शन के बाद अब कोहली की कप्तानी पर सवालों के बौछार होने शुरू हो गए हैं. कोहली के साथ ही उनके कोच रवि शास्त्री पर भी तंज कसे जा रहे हैं. हालांकि तीसरे वनडे मैच में भारत कौन सा नया कमाल दिखाती है, ये देखना बेहद दिलचस्प होगा.