विराट कोहली की आईपीएल में कप्तानी पर एक बार फिर बोले गौतम गंभीर, दी अहम सलाह 1

आईपीएल 2020 के शुरु होने में अब कुछ ही दिन बचे हैं। अब क्रिकेट के गलियारों में सिर्फ आईपीएल की ही चर्चा चल रही है। इस बीच कोलकाता नाइट राइडर्स को 2 बार खिताब जिता चुके पूर्व कप्तान गौतम गंभीर ने विराट कोहली की कप्तानी वाली फ्रेंचाइजी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलौर की टीम  पर टिप्पणी की है।

आरसीबी है पहले से अधिक मजबूत

गौतम गंभीर

आईपीएल 2020 का आयोजन कोरोना काल के बीच यूएई में किया जा रहा है। इस सीजन के सभी 60 मैच यूएई के 3 मैदानों पर (अबु धाबी, दुबई व शारजाह) में खेले जाएंगे। ऐसे में सभी का मानना है कि विराट कोहली की बोल्ड आर्मी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलौर के लिए ये आईपीएल सीजन खास हो सकता है। स्टार स्पोर्ट्स के शो ‘क्रिकेट कनेक्टेड’ पर बातचीत के दौरान गंभीर ने कहा,

“ऐसा लग रहा है कि इस समय विराट कोहली के पास एक संतुलित टीम है। पहले वे अपनी बल्लेबाजी पर बहुत अधिक निर्भर रहते थे, उनकी गेंदबाजी को ताकतवर नहीं माना जाता था। लेकिन उनके टीम मैनेजमेंट ने इस बार एक संतुलित टीम बनाने की कोशिश की है, ताकि उनकी गेंदबाजी में अधिक गहराई हो और उन्होंने कुछ ऑलराउंडरों को भी रखा है।”

विराट कोहली की आईपीएल में कप्तानी पर एक बार फिर बोले गौतम गंभीर, दी अहम सलाह 2

विराट इस सीजन में भी बल्ले के साथ करेंगे अच्छा

विराट कोहली आईपीएल में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। वह भले ही अपनी टीम को अब तक एक भी खिताब ना जिता पाए हो, लेकिन वह अपनी टीम के लिए बड़े-बड़े स्कोर बनाते हैं। लेकिन अब गंभीर का मानना है कि इस सीजन में  वह एक कप्तान के रूप में यकीनन ट्रॉफी जीतना चाहेंगे। गंभीर ने आगे कहा,

“आरसीबी टीम में आरोन फिंच के शामिल होने का भी बहुत बड़ा असर हो सकता है। विराट कोहली बल्लेबाज के लिए सबसे बड़ी चुनौती यह है कि उन्हें टूर्नामेंट जीतने की जरूरत है।

रोहित शर्मा ने इस टूर्नामेंट को चार बार और धोनी ने तीन बार खिताब जीता है। और आप पिछले 8 से 9 वर्षों से कप्तानी कर रहे हैं। आप अपने दम पर बड़े रन बना सकते हैं, जिसे वह इस बार भी बनाएंगे, लेकिन अंततः आप एक कप्तान के रूप में ट्रॉफी जीतना चाहते हैं और एक खिलाड़ी के रूप में।”

कप्तान टीम को जिताना चाहेगा खिताब

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलौर की टीम में हमेशा से ही स्टार खिलाड़ी रहे हैं। इसके बावजूद टीम एक भी खिताब नहीं जीत पाई है। ऐसे में हमेशा ही विराट कोहली की कप्तानी पर सवालियां निशान उठाए जाते हैं। अब गौतम गंभीर ने निष्कर्ष निकालते हुए कहा,

“यदि आप किसी भी कप्तान से पूछते हैं कि क्या वह 700 रन बनाना चाहेगा या 500 रन बनाने के साथ टूर्नामेंट जीतना चाहेगा। तो वह दूसरे वाले विकल्प को चुनना चाहेगा।

इसलिए, सलामी बल्लेबाज के रूप में वह निश्चित रूप से 500-700 रन बनाएगा, लेकिन यदि आप आरसीबी के कप्तान से पूछेंगे, तो विराट कोहली के सामने सबसे बड़ी चुनौती यह है कि वह रन बनाए लेकिन उससे ज्यादा महत्वपूर्ण यह कि वह टूर्नामेंट जीते या अपनी टीम को प्लेऑफ या फाइनल तक पहुंचाएं।”