जसप्रीत बुमराह नहीं बल्कि इसे घातक गेंदबाज मानते हैं Gautam Gambhir, नाम जानकर रह जायेगें दंग 1

भारत के पूर्व बल्लेबाज Gautam Gambhir ने भारत-साउथ अफ्रीका टेस्ट सीरीज में एक भारत के एक प्लेयर को घातक गेंदबाज बताया है। लेकिन यह सुनकर हैरानी होगी कि Gautam Gambhir ने घातक गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को नहीं बल्कि किसी और गेंदबाज को बताया है। घातक गेंदबाज के नाम से जसप्रीत बुमराह जाने जाते हैं लेकिन Gautam Gambhir की बात सुनकर थोड़ी हैरानी तो हुई है। तो चलिए जानते हैं कि Gautam Gambhir ने जसप्रीत बुमराह के बजाये किस गेंदबाज को घातक कहा है।

इस गेंदबाज के मुरीद हैं Gautam Gambhir

जसप्रीत बुमराह नहीं बल्कि इसे घातक गेंदबाज मानते हैं Gautam Gambhir, नाम जानकर रह जायेगें दंग 2

Gautam Gambhir में एक शो में भारत के घातक गेंदबाज का नाम लेते हुए बात करते हैं लेकिन हैरानी तक हुई जब वह घातक गेंदबाद में जसप्रीत बुमराह का नाम न लेकर किसी और गेंदबाज की बात कर गये। क्योंकि भारत के लिए स्टार और घातक गेंदबाज के रूप में जसप्रीत बुमराह को ही जाना जाता हैं। शो में इंडिया-साउथ अफ्रीका टेस्ट सीरीज की बात करते हुए Gautam Gambhir ने जिस गेंदबाज को घातक कहा है वह कोई और नहीं बल्कि मोहम्मद शमी हैं। यदि केपटाउन में हो रहे मैच की बात करें तो बुमराह ने साउथ अफ्रीका के पहले पारी में 5 विकेट अपने नाम किया था तो इस हिसाब से घातक गेंदबाज बुमराह को कहा जाना चाहिए।

अफ्रीकी बल्लेबाजों में खौफ पैदा कर रहे शमी

जसप्रीत बुमराह नहीं बल्कि इसे घातक गेंदबाज मानते हैं Gautam Gambhir, नाम जानकर रह जायेगें दंग 3

Gautam Gambhir ने अपने बात कि पुष्टि करते हुए कहा कि साउथ अफ्रीका के बल्लेबाज पूरे दिन शमी की गेंदबाजी से परेशान रहें हैं। उन्होनें बताया की शमी की गेंदबाजी साउथ अफ्रीका के बल्लेबाजों के लिए खतरा साबित हो रही थी। इसके बाद शमी की तारीफ करते हुए Gautam Gambhir ने कहा कि शमी की लाइन और लेंथ कमाल की हैं, वह बल्लेबाजों की कड़ी परीक्षा लेते हैं किसी भी बल्लेबाज से पूछ लीजिए कोई भी उसका सामना नहीं कर पायेगा।

Gautam Gambhir ने मोहम्मद शमी को बताया मैच विनर

जसप्रीत बुमराह नहीं बल्कि इसे घातक गेंदबाज मानते हैं Gautam Gambhir, नाम जानकर रह जायेगें दंग 4

Gautam Gambhir ने शो में बात करने के दौरान मोहम्मद शमी को मैच विनर गेंदबाज के रूप में बताया हैं। शमी अपने स्विंग गेंदबाजी से बल्लेबाजों को परेशान कर रखते हैं। सेंचुरियन में खेले गये पहले टेस्ट में शमी ने 5 विकेट लिए थे इसके बाद केपटाउन टेस्ट में शमी ने तीन गेंदों पर 2 विकेट लेकर भारत की मैच में वापसी करवाई। दरअसल शमी स्टंप के करीब गेंद डालते हैं जिससे विकेट मिलने के चांस ज्यादा होता है।

केपटाउन टेस्ट में भारत पहली पारी में 223 रनों पर ऑल आउट हो गयी थी बदले में साउथ अफ्रीका ने 210 रन ही बनाने में सफल हो सकी। भारत ने दूसरी पारी में 198 रन बनाए हैं और मेजबान टीम को 212 रनों का टारगेट दिया है.