आईपीएल के सफलतम बल्लेबाजों में शुमार इस खिलाड़ी ने माना शुरू के तीन आईपीएल सीजन में रन बनाना था आसान | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

आईपीएल के सफलतम बल्लेबाजों में शुमार इस खिलाड़ी ने माना शुरू के तीन आईपीएल सीजन में रन बनाना था आसान 

आईपीएल के सफलतम बल्लेबाजों में शुमार इस खिलाड़ी ने माना शुरू के तीन आईपीएल सीजन में रन बनाना था आसान

आईपीएल के मजबूत टीम और सबसे संतुलित टीम मानी जाने वाली कोलकाता नाइट राईडर्स ने गौतम गंभीर की कप्तानी में दो बार आईपीएल खिताब पर कब्जा किया है। कोलकाता नाइट राईडर्स की इस कामयाबी में कप्तान गौतम गंभीर के योगदान को नकारा नहींं जा सकता। गौतम गंभीर ने जब से कोलकाता का दामन थामा है जब से टीम के साथ-साथ गंभीर खुद ने भी बड़ी सफलता हासिल की है।

आईपीएल में कुछ खास रहे हैं गंभीर

दिल्ली डेयरडेविल्स की ओर से आईपीएल का आगाज करने वाले गौतम गंभीर आईपीएल इतिहास के सबसे शानदार बल्लेबाजों में से एक हैं। गौतम गंभीर ने आईपीएल की शुरूआत से ही अपने बल्ले से जमकर रन बनाए हैं। गौतम गंभीर ने 2009 और 2010 के आईपीएल के अलावा हर सीजन में 300 से ज्यादा रन बनाने में कामयाबी हासिल की है। गौतम गंभीर ने आईपीएल को लेकर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की है।चैंपियंस ट्रॉफी से नजरअंदाज किए जाने का बाद गौतम गंभीर के एक प्रशंसक ने लिखा उनके लिए खास पत्र

शुरू के तीन सीजन में रन बनाना था आसान

आईपीएल के सफलतम बल्लेबाजों में से एक गौतम गंभीर ने कहा कि “शुरू के तीन आईपीएल सीजन में अभी की तुलना में रन बनाना बड़ा ही आसान था। इसका सबसे बड़ा कारण है कि अब गेंदबाज बहुत ही चतुर हो गए हैं। अब गेंदबाज मैच के लिए अलग-अलग योजना बनाते हैं साथ ही उसी तरह का फिल्डिंग प्लेसमेंट करते हैं। गेंदबाज अब राउंड द विकेट से आते हैं और वाइड यॉर्कर गेंद डालते है। इसी तरह की गेंदबाज अब कई विविधता को दिखाता है।”

फिल्डिंग मे आ गया है नयापन

साथ ही गंभीर ने कहा कि “अब वास्तव में बड़ा ही बदलाव आ गया है। फिल्डिंग प्लेसमेंट भी अब बिल्कुल ही बदल गई है। लोग अब काफी ही अलग तरह का नयापन अपनाते है। साल 2008 में बहुत ही पारंपरिक थी। जब हम कभी भी फिल्डिंग में तीन प्वॉइंट, एक डिप कवर और एक लोंग ऑफ को साथ नहीं देखते थे।”हार के साथ ही महेंद्र सिंह धोनी के आईपीएल के सबसे शर्मनाक रिकॉर्ड के बेहद करीब पहुंचे गौतम गंभीर

पहले होती थी बेहद पारंपरिक फिल्डिंग

साथ ही गंभीर ने इस बात को आगे जारी रखते हुए कहा कि “उस समय हमेशा एक शॉर्ट थर्डमैन, बैकवर्ड प्वॉइंट और कवर रहती थी जो बहुत ही पारंपरिक फिल्डिंग लगती थी। ये वो समय था जब टीमें चार फिल्डर्स को ऑफ साइड में रखती थी और बाकी बचे फिल्डर्स को लेग साइड में जमा देते थे।”

Related posts