GL vs RCB: विराट कोहली का डिविलियर्स को लेकर बड़ा खुलासा, बताया खुद से महान बल्लेबाज

reyansh chaturvedi / 24 May 2016

क्रिकेट डेस्‍क। एबी डी’विलियर्स (नाबाद 79) और इकबाल अब्‍दुल्‍ला (नाबाद 33 रन) ने रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर को आईपीएल-9 के फाइनल में पहुंचा दिया है। आरसीबी ने मंगलवार को गुजरात लायंस को 4 विकेट से हरा दिया। आरसीबी की टीम ने तीसरी बार आईपीएल के फाइनल में प्रवेश किया है। इससे पहले वह 2009 और 2014 में फाइनल में पहुंच चुका है। आइए नजर डालते हैं मैच के बाद किसने क्‍या कहा-

मैं एबी के सम्‍मान में झुक गया: विराट
मैच के बाद विराट ने कहा, “मुझे विश्‍वास नहीं होता कि यहां एक विजयी कप्‍तान के रूप में खड़ा हूं। इससे वह बहस खत्‍म हो गई कि हम दोनों में से महान कौन हैं। मैं एबी के सम्‍मान में झुक गया। दबाव में उन्‍होंने शानदार पारियों में से एक खेली। उनके लिए बहुत खुश हूं। हम अच्‍छी क्रिकेट खेलकर प्‍लेऑफ में पहुंचे।”

मैच के बारे में बात करते हुए विराट ने कहा, “हमारा शीर्षक्रम प्रदर्शन नहीं कर पाया। मैं देख पा रहा था कि विरोधी टीम एबी को लेकर चिंतित है। इस जीत का श्रेय अब्‍दुल्‍ला को भी जाता है। युवा लड़के ने धैर्य के साथ खेला। गेंद शुरुआत में रुककर आ रही थी, लेकिन दूसरी पारी में बल्‍लेबाजी आसान हो गई थी।”

फाइनल में पहुंचने की उत्‍सुकता बयान करते हुए कोहली ने कहा, “हमारे लिए इससे बढि़या स्‍क्रीप्‍ट वाली कहानी नहीं हो सकती। बेंगलुरु में ही प्‍लेऑफ और फिर फाइनल। यह जीत बंगलौर वासियों को समर्पित है।”

विकेट नहीं लेना हमें महंगा पड़ गया: रैना
वहीं हार से बुरी तरह निराश गुजरात लायंस के कप्‍तान सुरेश रैना का कहना था कि, “एबी ने शानदार पारी खेली। हमने शुरुआत में अच्‍छी गेंदबाजी की। यहां की बाउंड्री छोटी है और बीच के ओवरों में विकेट नहीं लेना हमें महंगा पड़ गया। स्मिथ और द्विवेदी ने अच्‍छी बल्‍लेबाजी की। 160 रन के लक्ष्‍य की रक्षा की जा सकती थी।”

गेंद बाउंड्री पार गई और मेरी आखें जम गईं: डी’विलियर्स
मैन ऑफ द मैच चुने गए डी’विलियर्स का कहना था कि, “मैं बहुत घबराया हुआ था। मुझे पता था कि अगर मैं अंत तक टिका तो मैच को करीब ले जाऊंगा। जैसे ही फील्‍डर के पास से गेंद बाउंड्री पार गई, मेरी आंखें विकेट पर जम गई.”

डी’विलियर्स ने बताय कि “विराट ने कहा कि मौसम खराब है इसलिए मैंने स्मिथ पर प्रहार करना शुरू कर दिया। हम टूर्नामेंट के पहले भाग में पिछड़ गए थे, लेकिन अब दृश्‍य बदल चुका है। यहां के दर्शकों की आवाज की गूंज जिस प्रकार है मैंने अब तक और कहीं नहीं सुनी।”