/

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहली जीत दिलाने वाले इस भारतीय क्रिकेटर ने अंतिम सांस में भी पूछा था, क्या है स्कोर

91 साल पहले यानि 26 जुलाई 1927 को कराची में जन्मे भारतीय खिलाड़ी गुलाब राय रामचंद अपनी अंतिम सांस में भी सुबूत दे गए थे, कि वह क्रिकेट से कितना प्रेम करते हैं. गेंद और बल्ले दोनों से शानदार प्रदर्शन करने वाले रामचंद ने 1952 में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में डेब्यू किया था. उस समय वनडे क्रिकेट नही हुआ करता था. अपने आठ साल के अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट करियर में उन्होंने 33 टेस्ट मैच खेले.

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दिलाई पहली जीत 

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहली जीत दिलाने वाले इस भारतीय क्रिकेटर ने अंतिम सांस में भी पूछा था, क्या है स्कोर 1

ऑल राउंडर रामचंद ने अपनी कप्तानी में भारत को पहली बार ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट मैच में जीत दिलाई थी. 33 टेस्ट मैच खेलने वाले रामचंद ने 24.58 की औसत से 1180 रन बनाए. इस दौरान उन्होंने दो शतक और 5 अर्द्धशतक भी लगाए. जबकि गेंदबाजी में उनके नाम 41 विकेट दर्ज हैं.

हालांकि फर्स्ट क्लास क्रिकेट में उनका रिकॉर्ड काफी अच्छा है. 145 मैचों में उन्होंने अपनी शानदार बल्लेबाजी से 6026 रन बनाए. जबकि गेंदबाजी में 245 विकेट भी दर्ज हैं.

एडवरटाइजिंग करने वाले पहले क्रिकेटर 

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहली जीत दिलाने वाले इस भारतीय क्रिकेटर ने अंतिम सांस में भी पूछा था, क्या है स्कोर 2

एमएस धोनी, सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली जैसे बड़े दिग्गजों को आपने विज्ञापन में जरुर देखा होगा. मगर ये शुरुआत करने वाले पहले खिलाड़ी रामचंद हैं. जिन्होंने पहली बार विज्ञापन किया था. क्रिकेट से रिटायरमेंट होने के बाद उन्होंने एयरइंडिया में भी नौकरी की थी.

जब अंतिम सांस में भी पूछा स्कोर 

रामचंद क्रिकेट से कितना लगाव रखते थे इसका सबसे बड़ा उदहारण तब मिला जब उन्होंने अपनी अंतिम सांसों में भी स्कोर जानने की इच्छा जताई थी.ये बात 2003 की है जब हार्टअटैक के कारण उन्हें हिंदुजा अस्पाल में भर्ती कराया गया था.

ऐसे में जहां उनकी हालत नाजुक स्थिति में थी, तभी उन्होंने अपनी पत्नी से पाकिस्तान और बांग्लादेश के खिलाफ खेले जा रहे मैच का स्कोर पूछा था. यह मालूम होते ही वह 8 सितंबर 2003 को दुनिया से हमेशा के लिए अलविदा कह चुके थे. मगर उनका भारत के क्रिकेट इतिहास में हमेशा जगमगाता रहेगा.