हरभजन सिंह और गौतम गंभीर ने बॉल टेम्परिंग के आरोपियों पर किया ट्विट

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

स्मिथ को रोता देखकर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया पर भड़के गंभीर और भज्जी 

स्मिथ को रोता देखकर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया पर भड़के गंभीर और भज्जी

बॉल टेम्परिंग विवाद पर जब आईसीसी ने ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीवन स्मिथ और युवा खिलाड़ी कैमरन बैनक्रोफ्ट को सजा सुनाई थी, तो भारतीय टीम के दिग्गज ऑफ़ ब्रेक स्पिनर हरभजन सिंह खुश नहीं थे और उन्होंने अपने एक ट्विट के जरिये आईसीसी के फैसले पर नाराजगी जताई थी.

आईसीसी के सजा के फैसले पर जताई थी नाराजगी 

स्मिथ को रोता देखकर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया पर भड़के गंभीर और भज्जी 1

भारतीय टीम के ऑफ़ ब्रेक स्पिंग गेंदबाज हरभजन सिंह ने अपने एक ट्विट पर आईसीसी को आड़े हाथों लेते हुए कहा था,

“वाह आईसीसी वाह’ आपका बहुत अच्छा फेयरप्ले नियम चल रहे है. बैनक्रोफ्ट पर कोई प्रतिबंध नहीं, जबकि उसके खिलाफ सारे सुबूत थे. वही 2001 में साउथ अफ्रीका में जोरदार अपील करने के कारण हम छह लोगो पर आपने बिना किसी सुबूत के प्रतिबंध लगा दिया और सिडनी 2008 तो आपकों याद ही होगा. अलग अलग लोगो के लिए अलग-अलग नियम “

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के सजा के फैसले के बाद भी जताई नाराजगी 

स्मिथ को रोता देखकर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया पर भड़के गंभीर और भज्जी 2

क्रिकेट प्रशंसकों को हैरानी तब हुई जब हरभजन सिंह ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के फैसले पर भी नाराजगी जताई. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने स्मिथ, वार्नर को एक साल की सजा दी और कैमरन बैनक्रोफ्ट को 9 महीने की सजा दी थी.

लेकिन इसके बाद भी हरभजन सिंह खुश नहीं दिखाई दिए और अब उन्हें बॉल टेम्परिंग के आरोपियों की सजा कुछ ज्यादा ही कठोर लग रही थी. हरभजन ने अपने दुसरे ट्विट में लिखा,

“बॉल टेम्परिंग के लिए एक वर्ष प्रतिबंध? यह एक मजाक है. जिस तरह का अपराध उन्होंने किया है उसके लिए उन्हें खेल से एक वर्ष के लिए दूर करने का फैसला बिल्कुल बकवास है. यदि प्रतिबंध लगाना ही था, तो 1 टेस्ट सीरीज़ या 2 टेस्ट सीरीज के लिए लगा देते, लेकिन यह प्रतिबंध बहुत बकवास है.”

गौतम गंभीर ने भी बताया कठोर दंड 

स्मिथ को रोता देखकर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया पर भड़के गंभीर और भज्जी 3

भारतीय टीम से बाहर चल रहे ओपनर बल्लेबाज गौतम गंभीर ने भी क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया द्वारा बॉल टेम्परिंग के आरोपियों को दी गई सजा को कठोर दंड बताया है.

गौतम ने ट्विट कर लिखा,

“हालांकि, क्रिकेट को भ्रष्टाचार मुक्त करने की जरूरत है, लेकिन ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों पर यह प्रतिबंध कठोर लग रहा है. स्मिथ और वार्नर वेतन वृद्धि के लिए विद्रोह कर रहे थे, तो शायद प्रशासकों ने सोचा कि इन खिलाड़ियों पर प्रतिबंध लगा देते है.

इस गलती का दुःख मुझे अपने पुरे जीवनकाल तक रहेगा

स्मिथ को रोता देखकर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया पर भड़के गंभीर और भज्जी 4

आपकों बता दे, कि तीनों ही बॉल टेम्परिंग के आरोपी वापस ऑस्ट्रेलिया लौट गये है. सिडनी में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए स्टीवन स्मिथ रो पड़े और उन्होंने अपने बयान में कहा,

“यह पूरी जिम्मेदारी मेरी है. मैं इस बात को समझता हूं कि एक कप्तान होने के नाते एक बहुत बड़ी गलती हुई है.

मुझे अपनी इस गलती का दुःख अपने पुरे जीवनकाल तक रहेगा. मैं अपनी इस गलती के लिए कुछ भी सजा भुगतने को तैयार हूं. मैं इसके लिए सभी से माफ़ी चाहता हूं.”

आपकों बता दे, कि वही ऑस्ट्रेलियाई कोच डैरेन लेहमन ने भी अपने कोच पद से इस्तीफा दे दिया है और अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था,

“ऑस्ट्रेलिया के लिए यह मेरा लास्ट टेस्ट मैच है. मैंने पिछले हफ्ते अपने परिवार से बात की और पिछले दिनों की घटनाओं के चलते यह सही समय है ऑस्ट्रेलिया की कोचिंग छोड़ने का. खिलाड़ियों को अलविदा कहने का सबसे मुश्किल काम मुझे करना पड़ रहा है.”

Related posts

Leave a Reply