हार्दिक पंड्या

भारतीय टीम के ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या अभी तक फिटनेस हासिल नहीं कर पाए हैं. पीठ की परेशानी के बाद उन्होंने सर्जरी कराई थी उन्होंने मैदान पर वापसी कर ली थी, लेकिन न्यूजीलैंड ए के खिलाफ सीरीज से पहले फिटनेस टेस्ट में फेल हो गए थे. अब उनके फिटनेस पर बीसीसीआई के एक सोर्स ने बड़ा बयान दिया है.

हार्दिक पंड्या को अपने फिटनेस पर करना होगा काम

बीसीसीआई सूत्र ने बताया क्यों नहीं मिला हार्दिक पंड्या को न्यूज़ीलैंड दौरे पर टी-20 टीम में जगह 1

तेज गेंदबाजी आलराउंडर हार्दिक पंड्या के फिटनेस पर बड़ा बयान देते हुए अब बीसीसीआई के सूत्र ने ईएसपीएनक्रिकइंफो से बात करते हुए कहा कि

” आपको सही रूप से बताये तो वो अपनी अभ्यास सत्र में गेंदबाजी के दौरान खुद से संतुष्ट भी नहीं है. ऐसे कुछ खिलाड़ी हैं जिनका कार्यभार के आधार पर परीक्षण किया जाता है. उदाहरण के लिए, एक खिलाड़ी जो पीठ की चोट से वापस आ रहा है, उसे अच्छा प्रदर्शन वाले गेंदबाजी सत्र में उसके प्रदर्शन के आधार पर परखा जाता है. नेट पर दो से तीन घंटे से अधिक समय बिताने के बाद खिलाड़ी का परीक्षण किया जाता है.”

बीसीसीआई सूत्र ने बताया क्यों नहीं मिला हार्दिक पंड्या को न्यूज़ीलैंड दौरे पर टी-20 टीम में जगह 2

खुद हार्दिक पंड्या ने कहा कि उन्हें करना है फिटनेस पर काम

बीसीसीआई सूत्र ने बताया क्यों नहीं मिला हार्दिक पंड्या को न्यूज़ीलैंड दौरे पर टी-20 टीम में जगह 3

अपने फिटनेस पर खुद के बारें में हार्दिक पंड्या ने बीसीसीआई को बताया था. जिसके बारें में अब बीसीसीआई के सूत्र ने कहा कि

” अब, जब खिलाड़ी उस अवधि के लिए गेंदबाजी करता है, तो गेंदबाजी की निगरानी की जाती है. लय, गति, सटीकता और खिलाड़ी अपनी योजनाओं के साथ कैसे तालमेल बिठा रहा है, यह मूल रूप से परखा हुआ है. इसलिए, यदि शरीर खिलाड़ी के दिमाग में नहीं है, तो वह कार्यभार पर प्रतिक्रिया नहीं दे रहा है. पांड्या की राय थी कि वह अपनी पीठ पर आगे काम करना चाहते हैं.”

यो-यो टेस्ट पर भी बोले बीसीसीआई के सूत्र

हार्दिक पंड्या

आलराउंडर हार्दिक पंड्या के यो-यो टेस्ट पास करने पर बीसीसीआई के सूत्र ने कहा कि

” यो-यो और सब वह अपनी नींद में पास कर लेंगे. वह दक्षिण अफ्रीका सीरीज़ वापसी की ओर देख रहे हैं और तब तक अपनी पीठ पर काम करना जारी रखेंगे, तब तक वह कोई भी रिस्क लेने नहीं चाहते हैं.”