शर्मनाक: विराट कोहली और हरीश रावत पड़े मुश्किल में, विराट कोहली के लिए इससे शर्मनाक कुछ और नहीं

Ratnakar Pandey / 25 February 2017

उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री हरीश रावत के सियासी दामन पर एक नया दाग लग सकता है। मामला क्रिकेटर विराट कोहली से जुड़ा है। एक आरटीआई से खुलासा हुअा है कि हरीश रावत ने विराट को उत्तराखण्ड सरकार के 60 सेकेण्ड के वीडियो के लिए 2015 में 47.19 लाख रुपये दिये थे। दरअसल विराट कोहली उस समय उत्तराखण्ड टुरिज्म के ब्राण्डएंबेसडर थे। विवाद की वजह यह रही कि जिस पैसे का भुगतान कोहली को किया गया था वह उत्तरखण्ड में 2013 में आई बाढ़ के राहत कोश से किया गया है, जोकि भारतीय कप्तान के लिए बेहद शर्मनाक है, क्योंकि इस बाढ़ से काफी जनधन की हानि हुई थी, और ऐसे में केंद्र सरकार से प्राप्त राहत धन का इस तरह का दुरूपयोग बेहद शर्मनाक है।  माइकल वॉन ने कहा विराट कोहली और जो रूट नहीं बल्कि यह दिग्गज खिलाड़ी तोड़ेगा सचिन के टेस्ट रिकार्ड्स

लेकिन ‘द टाइम्स ऑफ इंडिया’ के हवाले से पता चला है कि कोहली के एजेंट ने किसी भी तरह के रुपयों के लेने देन की बात को खारिज किया है।

वहीं हरीश रावत के मीडिया प्रभारी सुरेन्द्र कुमार ने कहा है कि इससे जुड़े सभी काम कानून के दायरे में किये गए हैं। बीजेपी विधानसभा चुनाव में हार रही है इसलिए वह बेबुनियाद आरोप लगा रही है। साथ ही यह भी कहा कि टूरिज्म राज्य के अर्थव्यवस्था की ताकत है। उसको बढ़ावा देने के लिए किसी मशहूर चेहरे का उपयोग करना कहां गलत है। सुरेन्द्र कुमार के मुताबिक कोहली के प्रतिनिधि ने कहा है कि सरकार ने किसी भी तरह की रकम विराट को नहीं दी है।  4 बल्लेबाज़ जिन्होंने एकदिवसीय क्रिकेट के दौरान नहीं लगाया एक भी ‘छक्का’, टॉप 4 में एक भारतीय

इस मामले में एक अहम बात यह भी है कि अारटीआई एक्टिविस्ट अजेन्द्र अजय ने बात पर मुहर लगाई है कि कोहली को भुगतान जिला आपदा प्रबंधन अधिकरण रुद्रप्रयाग की तरफ से किया गया है और स्वीकृति उत्तराखण्ड राज्य आपदा प्रबंधन बोर्ड की तरफ से दी गई है। यह आरटीआई में भी साफ तौर पर लिखा गया है।