हरमनप्रीत कौर ने खुद खोला वो राज, बताया किस टेक्नीक की मदद से लगाती है मैदान पर लम्बे छक्के | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

हरमनप्रीत कौर ने खुद खोला वो राज, बताया किस टेक्नीक की मदद से लगाती है मैदान पर लम्बे छक्के 

हरमनप्रीत कौर ने खुद खोला वो राज, बताया किस टेक्नीक की मदद से लगाती है मैदान पर लम्बे छक्के

भारतीय महिला टीम की एक ऐसी खिलाड़ी जो अब पहचान की मोहताज नही हैं, नाम है हरमनप्रीत कौर. दाएं हाथ की बल्लेबाज हरमनप्रीत कौर ने सेमीफाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ताबड़तोड़ 171 रनों की नाबाद पारी खेली. इस पारी ने हरमनप्रीत को ऐसी प्रसिद्धी दिलवाई है, कि अब सभी माँ बाप अपनी बेटी को हरमनप्रीत जैसी हे बल्लेबाज बनते हुए देखना चाह्ते हैं. अभी पिछले दिनों उन्होंने अपनी पॉवर हिटिंग की काबिलियत का खुलासा किया कि आखिर वो कैसे इतने बड़े शॉट खेल पाती हैं.

हां, मैंने कॉपी किया-

हरमनप्रीत कौर ने खुद खोला वो राज, बताया किस टेक्नीक की मदद से लगाती है मैदान पर लम्बे छक्के 1

हरमनप्रीत कौर ने बताया कि वो इतने लम्बे और बड़े शॉट इस लिए खेल पाती हैं और उन्हें बड़े शॉट खेलना इस लिए पसंद है, क्योंकि वो बचपन में लड़कों को लम्बे लम्बे छक्के लगाती हुई देखती थी, तो मैं खुद वैसे ही शॉट मारने की कोशिश करती थी. इसी कारण मै जब क्रिकेट अकादमी गयी वहां भी मै लम्बे लम्बे शॉट खेलने लगी. OMG! जब माधुरी ने खुद इंटरव्यू में कहा, इस क्रिकेटर जितना सेक्सी मुझे कोई नही लगा… इसी कारण संजय दत्त से हो गया था ब्रेकअप

हैं, असल देशवासी-

हरमनप्रीत कौर ने खुद खोला वो राज, बताया किस टेक्नीक की मदद से लगाती है मैदान पर लम्बे छक्के 2

हरमनप्रीत ने बताया कि उनका बचपन और युवावस्था पंजाब के एक छोटे से कसबे में गुजरा है. इसके बावजूद उन्होंने यह मुकाम हासिल किया है, क्योंकि उनके अंदर देश्भाक्ति का सच्चा जज्बा है. हरमनप्रीत कौर ने बताया कि उनकी इस पारी को ज्यादा पसंद किया गया, क्योंकि उन्होंने यह पारी बड़े मैच और बड़े टूर्नामेंट में खेली है. और यही वह चाहती थी कि वह जब जरूरत हो तब प्रदर्शन करें. सनी ने की गेल को खुश करने की काफी खुश, लेकिन गेल को पसंद आई यह लड़की

ऐसे प्रदर्शन के लिए मेहनत की जरूरत-

हरमनप्रीत कौर ने खुद खोला वो राज, बताया किस टेक्नीक की मदद से लगाती है मैदान पर लम्बे छक्के 3

हरमनप्रीत ने यह भी कहा कि वह फिटनेस के मामले में हमेशा पारी के नियंत्रण में सक्षम थी क्योंकि वह आम तौर पर अभ्यास पसंद करती हैं. उन्होंने कहा है कि फुटबॉल खेलना और फिजियो के साथ अभ्यास करने के कारण वह पारी खेलने में सक्षम हुईं. उन्होंने कहा कि यदि आप ऐसी पारी खेलने की सोचती हैं तो आप को उसके लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ती है. ताकि यदि आप ऐसी पारी खेलें तो उसके बाद थकावट न महसूस हो.

 

Related posts