Heavy security greets return of cricket to Karachi after nine years

आज यानी रविवार को पाकिस्तान सुपर लीग का फाईनल मैच खेला जाना है और इसके लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गए हैं. बता दें कि, 9 सालों बाद आज काराची स्टेडियम में एक बार फिर मैच होने जा रहा है जिसके लिए पकिस्तान क्रिकेट बोर्ड और सरकार ने सुरक्षा का कड़े इंतजाम किये हैं. इतने लंबे अरसे बाद पाकिस्तान के नेशनल स्टेडियम कराची में खेला जाना है. जिसके लिए हर तरफ सुरक्षा चाक चौबंद है. तो आइये आपको तस्वीरों के माध्यम से बताते हैं इस बड़ी लीग का फाइनल मैच के इंतजाम.

Heavy security greets return of cricket to Karachi after nine years

दुबई में खेले जाने वाले PSL के आखरी मुकाबले को अब पकिस्तान में शिफ्ट करने का प्लान किया गया है और यह मैच अब पाकिस्तान के इंटरनेशनल कराची स्टेडियम में खेला जाना है. इसके लिए अब पकिस्तान बोर्ड ने कड़ी तैयारी कर ली है और सुरक्षा के कड़े इंतजाम के बीच PSL 18 का फाईनल मैच खेला जायेगा. जी हां, इंडियन एक्स्प्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक़, फाईनल मैच कराची स्टेडियम में खेला जाना है. आज रविवार को इस स्टेडियम में PSL का आखिरी मुकाबला सुरक्षा घेरे के बीच खेला जायेगा.

Heavy security greets return of cricket to Karachi after nine years

आप इस तस्वीर में देख सकते हैं कि, कैसे कराची स्टेडियम में खेले जाने वाले मैच में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गए हैं. मैदान के बाहर तीन स्टेज में सुरक्षा की जाएगी, जिसमे मैच देखने आने वाले दर्शकों को इसके लिए सुरक्षा के सभी मापदंडो के बीच होकर गुजरना पड़ेगा.

PSL 2018: 9 साल बाद पाकिस्तान के कराची में क्रिकेट खेलने को तैयार हुई यह टीम, रोड पर लगे खिलाड़ियों की स्टैचू 1

Heavy security greets return of cricket to Karachi after nine years

इसके साथ ही मैदान के आसपास खिलाड़ियों के बड़े-बड़े पोस्टर और बिलबोर्ड लगाये गए हैं, जिससे की दर्शक मैच का आनंद अच्छे से उठा सकें.

Heavy security greets return of cricket to Karachi after nine years

बता दें कि, पाकिस्तान में आखिरी बार कोई अन्तर्राष्ट्रीय मैच साल 2009 में खेला गया था. इसके बाद से यहां पर कोई भी अन्तर्राष्ट्रीय मैच नहीं खेला गया और अब जाकर 9 साल बाद एक बार फिर मैच खेला जाना है. दरअसल साल 2009 में पाकिस्तान और श्रीलंका के बीच मैच खेला जाना था और उस समय श्रीलंका के खिलाड़ियों की बस पर गद्दाफी स्टेडियम के बाहर आतंकवादी हमला हो गया था. इसके बाद से पाकिस्तान में कोई भी टीम मैच खेलने के लिए तैयार नहीं होती है.

Heavy security greets return of cricket to Karachi after nine years

इस मजबूरी की वजह से पाकिस्तान को दुबई को अपना होम ग्राउंड के तौर पर चुनना पड़ा और इसके बाद सारे मैच यही खेले जाते हैं. तो वहीं अब 9 साल एक बाद फिर कराची को होम ग्राउंड बनाकर एक बड़ा मैच खेला जाना है. लेकिन अब एक बार फिर पाकिस्तान एक शानदार मुकाबले के लिए तैयार है शानदार इंतजाम के बीच मैच करवाने जा रहा है.

Leave a comment