मैं रवि शास्त्री के कमेंट पर कोई बात नहीं करना चाहता हूँ : सौरव गांगुली | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

मैं रवि शास्त्री के कमेंट पर कोई बात नहीं करना चाहता हूँ : सौरव गांगुली 

मैं रवि शास्त्री के कमेंट पर कोई बात नहीं करना चाहता हूँ : सौरव गांगुली

अनिल कुंबले को भारतीय टीम के कोच नियुक्त जाने के पीछे भारतीय पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली की अहम भूमिका रही हैं.

दी इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार शास्त्री ने कहा कि मेरे इंटरव्यू के दौरान सौरव गांगूली मौजूद नहीं थे.
बीसीसीआई ने इंटरव्यू के लिए 4 सदस्यी टीम बनाई थी.

भारतीय कोच की नियुक्ति की जिम्मेदारी क्रिकेट सहायक समिति के सदस्य सौरव गांगुली, सचिन तेंदुलकर, वीवीएस लक्ष्मण और संजय जगदाले को सौपी गयी थी.

शास्त्री ने कहा सचिन, लक्ष्मण और जगदाले ने मुझसे प्रश्न किये, लेकिन गांगुली ने नहीं?

रवि शास्त्री के कमेंट पर प्रतिकिर्या देते हुए गांगुली ने कहा (कोच चुनने)  इंटरव्यू पूर्ण रूप से गोपनीय था. मैं शास्त्री के कमेंट पर कोई बात नहीं करना चाहता. आपको सहलाकर समिति के बाकि सदस्य से भी यह बात करनी चाहिए.

कोच ना बनाएं जाने के बाद निराश शास्त्री ने कहा मैं काफी निराश हूं. पिछले 18 महीनों में चीफ कोच बनने के लिए काफी मेहनत की थी. टीम का डायरेक्‍टर रहते हुए भारत ने काफी अच्‍छा प्रदर्शन भी किया था। और कई ऊंचाइयों पर टीम को पहुंचाया

सीएबी के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा रवि शास्त्री का इंटरव्यू मंगलवार को शाम 5 से 6 की बीच ताज होटल बंगाल पर निश्चित किया गया था, लेकिन उस समय मैं  बंगाल क्रिकेट संघ (कैब) की मीटिंग के कारण बाहर गए हुआ था और शाम 6.30 बजे मैं वहाँ से वापस आया.

पूर्व भारतीय टीम डायरेक्टर शास्त्री, इंटरव्यू के दिन थाईलैंड में थे और स्काईपी के जरिये इंटरव्यू दिया था, अनिल कुंबले को कोच नियुक्त किये जाने से पहले शास्त्री कोच पद के प्रमुख दावेदार थे.

भारतीय कोच पद के 57 उम्मीदवारों ने आवेदन किया था जिसमे से भारत के पूर्व कप्तान अनिल कुंबले को कोच नियुक्त किया गया.

दूसरी ओर अभय शर्मा और संजय बांगर को वेस्ट-इंडीज दौरे के लिए सहायक कोच के रूप में नियुक्त किया गया था. अभय शर्मा और संजय बांगर ज़िम्बाब्वे दौरे पर भी भारतीय टीम के साथ मौजूद थे.

Related posts