आईसीसी ने नो बाल नियम में किया बड़ा बदलाव, थर्ड अम्पायर देगा फैसला

sagar mhatre / 21 August 2016

कल आईसीसी ने ये घोषणा किया, कि हम अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में फ्रंन्ट फुट नो बॉल के लिए परिक्षण करेंगे जिसमे तीसरे अंपायर को नो बॉल देने के लिए कहा जायेगा. वेस्टइंडीज दौरे पर चौथे टेस्ट में क्यों भावुक हुये विराट कोहली?

इसकी शुरूआत 24 अगस्त से इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच शुरू होने वाले वनडे सीरीज से होगी, जिसमे फ्रंन्ट फुट नो बॉल हैं, कि नहीं इसका फैसला तीसरा अंपायर करेंगे.

इसका मतलब इस सीरीज में अॉन फिल्ड अंपायर नो बॉल का फैसला नहीं करेंगे, और ये निर्णय सिर्फ तीसरे अंपायर ही लेंगे. बाएँ हाथ से खेलने वाले खिलाड़ियों की आल-टाइम फेवरेट एकदिवसीय एकादश में भारत का दबदबा

तीसरे अंपायर के लिए कैमरा पहले से ही रिप्ले मोड में किया जाएगा, जिससे तीसरे अंपायर नो बॉल का फैसला तुरंत सुना सकते हैं. तीसरे अंपायर के लिए रन आउट देखने जैसी सुविधा दी जाएगी.

अॉन फिल्ड अंपायर को एक घड़ी दी जाएगी, जो तीसरे अंपायर के बटन दबने से वायब्रेट होगी, और ये जब तीसरे अंपायर नो बॉल हैं ऐसा बोलेंगे तब. अगर वायब्रेट में कुछ खराबी आयी, तो तीसरा अंपायर वॉकी टॉकी का इस्तेमाल करेंगे.

चौथे टेस्ट के बीच वेस्टइंडीज से आई भारत के लिए बुरी खबर

आईसीसी सीनियर मैनेजर एड्रियन ग्रिफिथ ने कहा, कि इसका हम परिक्षण करने वाले हैं, और इससे तीसरे अंपायर की भुमिका और बढ़ेगी, और नो बॉल के फैसले सहीं लिए जाएंगे. और अॉन फिल्ड अंपायर की जिम्मेदारी भी कम हो जाएगी.

अब हमारे पास काफी अच्छी टेक्नोलॉजी आ गयी हैं, और जिसका हम इस मामलें में इस्तेमाल कर सकते हैं. इंग्लैंड और पाकिस्तान के सीरीज से इसका परिक्षण किया जाएगा, और हमे उम्मीद हैं, कि इससे हर नो बॉल का फैसला सहीं हो जायेगा.

पाकिस्तानी कप्तान मिस्बाह-उल-हक ने टेस्ट क्रिकेट से संयास लेने के समय की किया घोषणा

आईसीसी अंपायरों को सोमवार और मंगलवार को साउथएप्टन में इस मामलें की ट्रेनिंग देगी. इसके परीक्षण का परिणाम आईसीसी देखेगी, और इस पर भविष्य फैसला लिया जायेगा, कि ये अच्छा हैं या नहीं.

Related Topics