ICC World Test Championship Point Table: भारत का स्थान टॉप पर, ऑस्ट्रेलियां

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

ICC World Test Championship Point Table: भारत के बराबर मैच जीतने के बाद भी क्यों ऑस्ट्रेलिया है भारत से पीछे? 

ICC World Test Championship Point Table: भारत के बराबर मैच जीतने के बाद भी क्यों ऑस्ट्रेलिया है भारत से पीछे?

ओल्ड ट्रेफर्ड स्टेडियम में खेले गए चौथे टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को चौथे टेस्ट मैच में 185 से हराकर सिर्फ ट्रॉफी को अपने पास नहीं रखा है, बल्कि इसके साथ ही उन्होंने | वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में नंबर चार में अपनी जगह भी पक्की कर ली है। जिसके साथ ही ऑस्ट्रेलियां इस लिस्ट में नंबर चार पर आ गई है।

भारत का स्थान है इस चैंपियनशिप में सबसे ऊपर

ऑस्ट्रेलिया

इस वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में भारत का स्थान सबसे ऊपर है। भारत इस आईसीसी टेस्ट विश्व कप प्वॉइंट टेबल में 120 अंकों के साथ सबसे टॉप पर स्थापित है। वहीं दूसरे स्थान पर न्यूजीलैंड है, जिसके इस पॉइंट टेबल में 60 अंक हैं। इसके बाद इस पॉइंट टेबल में श्रीलंका का स्थान है। इस लिस्ट में उनके 60 अंक हैं।

एशेज सीरीज में मिली जीत के कारण हुई ऑस्ट्रेलिया की बढ़त

ऑस्ट्रेलिया

हालांकि आपको पता होगा कि ऑस्ट्रेलिया ने पिछली बार एशेज सीरीज जीती थी और इस बार भी उसने अब 2-1 की बढ़त बना ली है। इस जीत के बाद अब एशेज ऑस्ट्रेलिया के पास ही बरकरार रहेगा। इंग्लैंड अब अगर पांचवां और अंतिम टेस्ट मैच जीतता भी है तो वह केवल सीरीज 2-2 से बराबर ही कर सकती है, लेकिन वह ऑस्ट्रेलिया से एशेज नहीं छीन सकती है। हालांकि इस जीत के बाद ऑस्ट्रेलिया को इस पॉइट टेबल में बढ़त जरुर मिली है। जिसके कारण उसका पहले कहीं ज्यादा ऊंचे स्थान पर पहुंच गया है।

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के प्वॉइंट सिस्टम हैं अलग तरह से

ऑस्ट्रेलिया

दरअसल वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के प्वॉइंट सिस्टम के मुताबिक दो मैचों की सीरीज में जीतने पर 60 प्वॉइंट्स, टाई होने पर 30 प्वॉइंट्स और ड्रॉ के 20 प्वॉइंट्स मिलेंगे, जबकि हारने पर एक भी प्वॉइंट नहीं होगा। कितने भी मैचों की सीरीज हो हारने वाली टीम को कोई प्वॉइंट नहीं मिलेगा। वहीं तीन मैचों की सीरीज में जीतने पर 40 प्वॉइंट्स, टाई होने पर 20 प्वॉइंट्स और ड्रॉ होने पर 13 प्वॉइंट्स होंगे।

चार मैचों की सीरीज में जीतने वाली टीम को 30 प्वॉइंट्स, टाई होने पर 15 प्वॉइंट्स और मैच ड्रॉ होने पर 10 प्वॉइंट्स होंगे। जबकि पांच मैचों की सीरीज में जीतने पर 24 प्वॉइंट्स, टाई होने पर 12 प्वॉइंट्स और ड्रॉ होने पर आठ प्वॉइंट्स होंगे। (टाई और ड्रॉ होने पर दोनों टीमों के एक जैसे प्वॉइंट्स मिलेंगे।)

Related posts