अगर चला इस भारतीय खिलाड़ी का बल्ला तो बदल जायेंगे सारे समीकरण

vinay mani tripathi / 23 March 2015

26 मार्च को सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच होने वाले दुसरे सेमीफाइनल मैच में अगर सुरेश रैना का बल्ला चला तो सारे समीकरण बदल जायेंगे और विश्वकप भारत की झोली में होगा.

प्रसिद्ध न्यूज़ चैनल बीबीसी के अनुसार सुरेश रैना मैन आफ द सीरीज का ख़िताब भी जीत सकते है.

अगर हम एक अंग्रेजी अखबार में छपी न्यूज़ पर नजर डाले तो 1 साल पहले भारतीय बल्लेबाज सुरेश रैना का प्रदर्शन काफी खराब था, और यही मुख्य वजह था, कि भारतीय टीम साउथ अफ्रीका और न्यूज़ीलैंड दौरे से सभी मैच हार कर वापस भारत आयी थी. और सभी के लिए रैना का फार्म समस्या बनी हुई थी.

2013-14 के सीरीज के दौरान रैना को चौथे, पांचवे और छठवे स्थान पर बल्लेबाजी के लिये भेजा गया, लेकिन कोई सफलता हाथ नहीं लगी, और इसीलिये एशिया कप से रैना को टीम से बाहर निकाल दिया गया.

रैना के उपर लगातार कप्तान का भरोसा जिम्बाम्बे मैच के दौरान सामने आया, जब भारत मात्र 98 रनों पर 4 विकेट के साथ जूझ रहा था, तब रैना ने कप्तान के साथ मिलकर भारत को जीत दिलाई, इस मैच में रैना ने शतक भी लगाया, जो 2010 के बाद उनका पहला शतक था.

उसके बाद बांग्लदेश के खिलाफ रैना ने 65 रनों की पारी खेली, भले ही भारतीय बल्लेबाज रोहित शर्मा ने शतक लगाया हो, लेकिन रैना की पारी भी विरोधी टीम का हौसला पस्त करने में अहम भूमिका निभाई.

और अब अगर विश्वकप के बाकी बचे दोनों मैचो में इस बल्लेबाज का बल्ला इसी तरह चलता रहा, तो बाकी के तीनो टीमो के अरमानो पर पानी फिर जायेगा, और एक बार फिर विश्वकप पर भारतीय टीम का कब्जा होगा.

Related Topics