… तो क्या वास्तव में ऑस्ट्रेलिया से जीत सकता है भारत?

इस बार होने वाले क्रिकेट वर्ल्ड कप 2015 के तहत 26 मार्च कोसेमीफाइनल में भारत-ऑस्ट्रेलिय का टकराव काफी चर्चा में है।कुछ क्रिकेट विशेषज्ञों का कहना है कि सिडनी में जो मुकाबला होने वाला है उस टक्कर में ऑस्ट्रेलिया का पलड़ा भारी लग रहा है पर हम एस बात को भी नजरंदाज नहीं कर सकते की , उनकी एक खामी  जिसका फायदा टीम इंडिया उठा सकती है।

बात दरसल ये है की ऑस्ट्रेलिया के पासविश्व स्तरीय स्पिनर नहीं है और उसे इसलिए भारत के खिलाफ यह कमी काफी भारी पड़ सकती है।

ऑस्ट्रेलिया के पहले रह चुके कप्तान  इयान चैपल का भी साफ़ साफ़ ये कहना है की हमारी  टीम पूरी तरह बैलेंस में  नहीं हैक्योंकि उनके पास विश्व स्तरीय स्पिनर नहीं है। इयान  ने ये भी अपने बयान में कहा, मुझे लगता हैकि ऑस्ट्रेलिया का आक्रमण बहुत अच्छा और शायद सफल भी होसकता है पर उनकी एक कमजोरी का फायदा इंडिया उठा सकती है हमारी टीम लेकिन पूरी तरह संतुलित नहीं हैक्योंकि उनके पास स्तरीय का स्पिनर नहीं है। यही एकमात्र कमी हमारी टीम में है ।

एस बयान से पहले पाकिस्तानी कप्तान मिस्बाह उल हक ने भी ये बात सामने रखी थी  कि सेमीफाइनल में अपनेस्पिनरों के कारण भारत का पलड़ा भारी है, क्योंकि ये आज तक देखा जरा है सिडनी क्रिकेट ग्राउंडआम तौर पर स्पिनरों का मददगार साबित होता है।

ऑस्ट्रेलिया के पास इसवर्ल्ड कप में कोई भी आल राउंडर स्पिनर नहीं है जबकि हो चुके मैच में भारत के लिए आर अश्विन नेशानदार प्रदर्शन करते हुए 7 मैचों में 12 विकेट झटक लिए हैं।

Related Topics