आईपीएल में महेंद्र सिंह धोनी की नाक में दम कर चुका ये खिलाड़ी आज है गुमनाम 1

साल 2008 में दुनिया के सबसे धनी क्रिकेट बोर्ड बीसीसीआई ने एक क्रांतिकारी कदम उठाते हुए टी20 क्रिकेट का सबसे बड़ा लीग इंडियन प्रीमियर लीग की शुरुआत की। आईपीएल ने अपने आगाज के साथ ही सबसे बड़ा काम ये किया कि इसमें अनजान खिलाड़ियों को अपनी पहचान बनाने का मौका दिया और ऐसा मंच सेट किया जिससे वो इंटरनेशनल क्रिकेट में भी जगह बना सकते हैं।

जिसने महेंद्र सिंह धोनी को किया था परेशान वो है आज गुमनाम

आईपीएल की शुरुआत के बाद इस लीग में ऐसे कई क्रिकेटर्स रहे जिसमें देशी हो या विदेशी उन्होंने अपनी प्रतिभा को साबित करने के साथ ही इंटरनेशनल क्रिकेट का रूख किया। लेकिन एक ऐसा खिलाड़ी रहा जो एक सीजन धमाकेदार फॉर्म में दिखा फिर गुमनाम हो गया।

आईपीएल में महेंद्र सिंह धोनी की नाक में दम कर चुका ये खिलाड़ी आज है गुमनाम 2

आईपीएल में खेलने वाले वैसे कई खिलाड़ी हैं जो गुमनाम हो चुके हैं लेकिन इनमें से एक वो खिलाड़ी है जिसने चैंपियन कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के नाक में दम कर दिया, जहां धोनी इस बल्लेबाज की बल्लेबाजी देखते ही रह गए।

साल 2011 में पॉल वाल्थाटी ने सीएसके के खिलाफ किया था कमाल

हम यहां पर बात कर रहे हैं महाराष्ट्र के एक बल्लेबाज पॉल वाल्थाटी की। पॉल वाल्थाटी ने साल 2011 के आईपीएल में बहुत ही जबरदस्त प्रदर्शन किया। किंग्स इलेवन पंजाब के लिए खेलने वाले इस बल्लेबाज ने एक के बाद एक कमाल की पारियां खेली।

आईपीएल में महेंद्र सिंह धोनी की नाक में दम कर चुका ये खिलाड़ी आज है गुमनाम 3

आईपीएल में महेंद्र सिंह धोनी की नाक में दम कर चुका ये खिलाड़ी आज है गुमनाम 4

पॉल वाल्थाटी की सबसे बेहतरीन पारी चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ आयी। इस मैच में वाल्थाटी ने वो काम किया जो बड़े-बड़े बल्लेबाज नहीं कर सके। उन्होंने लक्ष्य का पीछा करते हुए सीएसके की गेंदबाजी के सामने विस्फोटक पारी खेली।

सीएसके के खिलाफ लक्ष्य का पीछे करते खेली 120 की धुआंधार पारी

किंग्स इलेवन पंजाब की टीम में बतौर ओपनर खेलने वाले पॉल वाल्थाटी का बल्ला पूरे आईपीएल में खूब गरजा, इस दौरान उन्होंने सीएसके के खिलाफ एक मैच में लक्ष्य का पीछा करते हुए जबरदस्त पारी खेली जिसके आगे धोनी जैसा कप्तान भी असहाय नजर आने लगा।

पॉल वल्थाटी

चेन्नई सुपर किंग्स ने इस मैच में पहले खेलते हुए एक बहुत ही विशाल स्कोर खड़ा किया था। उनसे 189 रनों का लक्ष्य किंग्स इलेवन पंजाब को मिला था। सीएसके के फैंस या टीम ने नहीं सोचा होगा कि एक अनजान खिलाड़ी इस लक्ष्य को पूरी तरह से छोटा साबित कर देगा। वाल्थाटी ने जबरदस्त पारी खेली। केवल 63 गेंद का सामना कर उन्होंने 120 रन की पारी खेल टीम को जीत दिला दी। उन्होंने 19 चौके और 2 छक्के जड़े। ये पारी आईपीएल के अब तक के इतिहास में लक्ष्य का पीछे करते हुए खेली गई सबसे बड़ी पारी है।